नई दिल्ली, एजेंसी। देश के 65.69 फीसद लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं। कोरोना काल में जब दुनिया के कई देशों के नेताओं की लोकप्रियता धड़ाम हो गई तब 58.36 फीसद लोगों ने मोदी के कामकाज को लेकर अति संतुष्ट होने की बात कही है। वहीं, इस सर्वे में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की स्थिति अच्छी नहीं रही। लोकप्रियता के पैमाने पर उनकी रेटिंग मात्र 0.58 फीसद रही। देश भर में आइएएनएस-सी वोटर द्वारा कराए गए सर्वे के अनुसार देश के 24.01 फीसद लोग मोदी के कामकाज से मामूली संतुष्ट और 16.71 फीसद कतई संतुष्ट नहीं हैं।

वहीं, दूसरी ओर विश्वव्यापी सर्वे में भी पीएम मोदी सबसे लोकप्रिय नेता बनकर उभरे हैं। कोरोना संकट की इस घड़ी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के सामने गंभीर चुनौतियां खड़ी कर दी हों। लेकिन इस विकट घड़ी में भी देश ने प्रधानमंत्री मोदी में विश्वास दिखाया है। वह जिस तरह इस महामारी से जंग में देश का नेतृत्व कर रहे हैं, उससे उनकी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है।

पीएम मोदी की हाई एप्रूवल रेटिंग 80 से 90 फीसद तक पहुंच गई

कुछ दिन पूर्व हुए सर्वे में वह इस घातक महामारी से निपटने के तरीके को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी ज्यादा लोकप्रिय पाए गए हैं। अमेरिकी फर्म मॉर्निग कंसल्ट के सर्वे के अनुसार, पिछले कुछ माह में मोदी की हाई एप्रूवल रेटिंग 80 फीसद से बढ़कर 90 फीसद के स्तर पर पहुंच गई है। उन्होंने लोकप्रियता के मामले में दूसरे नेताओं ट्रंप और पुतिन को भी पीछे छोड़ दिया।

पीएम मोदी की आमतौर पर इन दोनों नेताओं से तुलना की जाती है। कई विश्लेषषकों का मानना है कि भारत अगर कोरोना महामारी से निकलने में सफल रहा तो वह और उनकी पार्टी (भाजपा) पहले से भी ज्यादा मजबूत हो सकती है।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस