नई दिल्ली,एएनआइ। पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर आयोजित परेड में हिस्सा लेने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पहुंचे। यहां उन्होंने शहीद पुलिस कर्मियों को श्रृद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों और पुलिस कर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि अब तक 34,844 पुलिस कर्मी ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवा चुके हैं।

आज जान गंवाने वाले  292 पुलिस कर्मियों का नाम शहीद सूची में जोड़ा जाएगा। शाह ने आगे कहा कि हम अपने पुलिस कर्मियों के परिवारों को सलाम करते हैं। हमारे पुलिस कर्मी पूरी लगन और मेहनत के साथ अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। जिस तरह से वह साहस दिखाते है वो हमेशा ही हमें प्रेरित करता है।

 

पुलिस स्थापना दिवस के मौके पर गृह मंत्री अमित शाह मुख्य अतिथि थे। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि मैं देशभर के पुलिस कर्मियों को ये आश्वस्त करता हूं कि ये पुलिस स्मारक बनके रहेगा और पुलिस कर्मियों के कर्तव्य को गौरव प्राप्त करके देश को पुलिस के बलिदानों की गाथा सुनाएगा। 

एक लाख नागरिक पर महज 144 पुलिसकर्मी

अपने संबोधित में शाह ने ये भी कहा कि चाहे आतंकवादियों और उग्रवादियों से निपटने और सड़क यातायात को केंट्रोल करने तक सारे काम पुलिसकर्मी ही करते हैं। आज हमारे पास एक लाख नागरिक पर 144 पुलिस कर्मी है जबकि ये संख्या करीब 222 होनी चाहिए। उन्होंने कहा करीब 90 प्रतिशत पुलिसकर्मियों को हर रोज 12 घंटे तक काम करना पड़ता है। इतना ही नहीं इन सभी में से करीब तीन चौथाई पुलिस कर्मी तो वीक ऑफ तक नहीं ले पाते। उन्होंने ये भी कहा कि सरकार ने पुलिस के काफी काम किया है। साथ ही मैं सभी पुलिस कर्मियों को ये भरोसा दिलाना चाहता हूं कि हमारी सरकार आगे भी उनके लिए इसी तरह और काम करती रहेगी। हम ये सुनिश्चित करेंगे की हम आपके परिवार, आवास, स्वास्थय के लिए और भी काम करेंगे। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप