नई दिल्ली, प्रेट्र। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को कहा कि विभिन्न परियोजनाओं की पर्यावरणीय मंजूरी को लेकर उनके नेतृत्व वाली यूपीए सरकार की बहुत आलोचना हुई थी। हमारी सरकार वन्य जीवों की सुरक्षा को लेकर बेहद संवेदनशील थी। वह 2019 के इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार के लिए आयोजित डिजिटल समारोह में बोल रहे थे। यह पुरस्कार प्रकृतिवादी और प्रसारक डेविड एटनबरो को दिया गया है।

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने विकास और परिस्थितिकी के बीच संतुलन बनाते हुए काम किया था। सरकार आर्थिक विकास को लेकर बहुत ही सतर्क थी। इस दौरान लोगों के जीवन स्तर को सुधारने पर भी काम किया गया। उस समय भारत ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर पर्यावरण से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की और इसका असर भी दिखा।

इस दौरान उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी। कहा कि उनके ही दिशा निर्देशन में विगत वर्ष इस पुरस्कार के लिए सर डेविड एटनबरो को चुना गया था। उनका इस समय हमारे साथ न होना बहुत ही दुखद है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021