जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। लश्करे तैयबा प्रमुख हाफिज सईद और आइएसआइ से पैसे लेकर कश्मीर घाटी में सक्रिय अलगाववादियों और आतंकियों तक पहुंचाने के आरोप में बिजनेसमैन जहूर अहमद वटाली की कुछ और संपत्तियां जब्त की गई हैं। प्रवर्तन निदेशालय पहले ही जहूर वटाली की लगभग नौ करोड़ रूपये की संपत्ति जब्त कर चुका है। ताजा मामले में उसकी 1.73 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है।

ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आतंकी फंडिंग की जांच का सामना कर रहा जहूर वटाली दुबई से आए 1.74 करोड़ रुपये के स्त्रोत की जानकारी देने में विफल रहा।

माना जा रहा है कि यह पैसा या तो आइएसआइ या फिर हाफिज सईद की ओर से आतंकी फंडिंग के रूप में भेजी गई थी। इसीलिए इसी रकम के बराबर उसी संपत्तियों को जब्त किया गया है।

जब्त संपत्तियों में वटाली के रिश्तेदारों के नाम पर 1.48 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति के साथ ही जम्मू-कश्मीर बैंक के दिल्ली स्थित शाखा में जमा 25 लाख रुपये भी शामिल हैं।

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इसके पहले वटाली की उन संपत्तियों को जब्त किया गया था, तो हवाला के मार्फत से भेजी गई आतंकी फंडिंग के पैसे से बनाई गई थी।

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस