मुंबई, एएनआइ। कोहिनूर इमारत मामले ने एकबार फिर तूल पकड़ ली है। इस मामले में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के संस्थापक राज ठाकरे मुश्किल में घिरते नजर आ रहे हैं। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय(ED) ने राज ठाकरे को नोटिस जारी कर 22 अगस्त को पेश होने के आदेश दिए हैं। साथ ही इसी मामले में शिवसेना(Shiv Sena) नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेश जोशी को भी 19 अगस्त को पूछताछ के लिए बुलाया गया है।

ईडी के नोटिस के संबंध में आज उन्मेश जोशी ईडी के दफ्तर पहुंचे। ई़डी ऑफिस से निकलने के बाद उन्होंने कहा, 'मुझे एक नोटिस मिला है और मैं आज प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों से मिलने आया हूं। ईडी द्वारा मुझे कोई प्रश्नावली नहीं भेजी गई थी। मैं उनके साथ सहयोग करूंगा। यह कोहिनूर (कोहिनूर निर्माण मामले) के बारे में होना चाहिए।'

इस मामले पर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के नेता संदीप देशपांडे ने कहा है कि यह कार्रवाई निराधार है। उन्होंने कहा कि पिछले 5-6 सालों में बीजेपी के किसी भी शीर्ष नेता के खिलाफ कोई ईडी जांच नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि वो इस 'हिटलरशाही' के खिलाफ अपनी जंग जारी रखेंगे।

जमीन खरीदकर निवेश 
उन्मेष जोशी की कंपनी कोहिनूर सीटीएनएल के जरिए कोहिनूर मिल की जमीन खरीदी गई। इसके बाद जमीन पर कोहिनूर स्क्वायर नामक इमारत का निर्माण किया गया, साथ ही इसमें सरकारी क्षेत्र की कंपनी इंफ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज (ILFS) के माध्यम से निवेश करवाया गया।

क्या है पूरा मामला ?
प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) आईएलएफएस की ओर से कोहिनूर सीटीएनएल कंपनी को दिए कर्ज और इंवेस्टमेंट की जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि इस निवेश में धांधली की शिकायत के बाद ईडी ने इस मामले में दखल दिया और जांच शुरू की थी। फिलहाल ईडी कई लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है और अब शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

राज ठकरे ने साधी चुप्पी
हालांकि इस मामले पर मनसे प्रमुख राज ठाकरे की ओर से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई है। हालांकि उनकी पार्टी की ओर से लोगों ने बयान दिया है और इसे निराधार बताया है।

इसे भी पढ़ें-  शेहला रशीद के खिलाफ आपराधिक शिकायत, सेना को लेकर फर्जी खबरें फैलाने का आरोप

इसे भी पढ़ें- VIDEO: तेज रफ्तार कार ने फुटपाथ पर चल रहे चार लोगों को रौंदा, CCTV में कैद हुईं तस्वीरें

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप