जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। कांग्रेस ने उदयपुर बर्बरता के आरोपित के बाद जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी तालिब हुसैन शाह के भाजपा से जुड़ाव को लेकर हमला करते हुए आरोप लगाया कि उसका नकली राष्ट्रवाद देश को खोखला कर रहा है। कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख पवन खेड़ा ने इन दोनों मामलों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा कि आतंकी तत्वों के साथ जुड़ाव का सियासी खेल खतरनाक है।

कांग्रेस ने कहा, भाजपा का नकली राष्ट्रवाद देश को कर रहा खोखला

उदयपुर और जम्मू में पकड़े गए आतंकियों को लेकर कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस में पवन खेड़ा ने कहा कि पिछले एक हफ्ते की दो घटनाओं ने भाजपा के चाल, चरित्र और चेहरे को सामने ला दिया है। पहले उदयपुर हत्याकांड में शामिल एक आरोपित भाजपा का कार्यकर्ता निकला और अब जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों में से एक तालिब हुसैन शाह प्रदेश भाजपा का पदाधिकारी निकला। चिंताजनक बात है कि जब तालिब पकड़ा गया, तब वह पवित्र अमरनाथ यात्रा पर हमले की साजिश रच रहा था। यह चिंता इसलिए भी गंभीर है कि देश के गृह मंत्री के साथ इसकी तस्वीर सामने आई है। यह बहुत बड़ी खुफिया नाकामी है, क्योंकि देश के गृह मंत्री की सुरक्षा के लिए यह बड़ा खतरा है।

खेड़ा ने कहा कि केवल ये दो घटनाएं ही नहीं, आतंकी तत्वों से भाजपा के जुड़ाव के कई उदाहरण हैं। जिसमें दो साल पहले जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को हथियार मुहैया कराने के आरोप में गिरफ्तार तारिक अहमद मीर भी है जो भाजपा से जुड़ा था। उस पर हिजबुल कमांडर नवेद बाबू को हथियार देने का आरोप था। जो आतंकियों की मदद करने वाले डीएसपी देविंदर सिंह के साथ गिरफ्तार हुआ था। उनके अनुसार, एनआइए ने कहा था कि मीर डीएसपी देविंदर सिंह का सहयोगी है। देविंदर मामले की सही जांच की जाती तो सच्चाई सामने आ जाती। लेकिन जांच बीच में ही रोक दी गई।

कांग्रेस नेता ने 2017 में मध्य प्रदेश के सतना में अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का पर्दाफाश और 11 आइएसआइ संदिग्धों को गिरफ्तार किए जाने का उदाहरण देते हुए कहा कि इसमें गिरफ्तार ध्रुव सक्सेना प्रदेश भाजपा के आइटी सेल का सदस्य था और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ उसकी तस्वीर सामने आई थी। इसके बाद मध्य प्रदेश में बजरंग दल के एक नेता बलराम सिंह की गिरफ्तारी आतंकी फंडिंग के आरोप में हुई। जबकि 2017 में एनआइए की विशेष अदालत ने आतंकियों को आर्थिक मदद देने के आरोप में असम के भाजपा नेता निरंजन होजाई को उम्र कैद की सजा सुनाई थी।

इतना ही नहीं, भाजपा ने आतंकी मसूद अजहर के शागिर्द मोहम्मद फारुख खान को स्थानीय चुनाव में श्रीनगर के वार्ड नंबर 33 से टिकट दिया जो जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट एवं हरकत उल मुजाहिदीन का सदस्य रह चुका है। भाजपा पर निशाना साधते हुए खेड़ा ने देश के लोगों से अपील कि भाजपा के कथित खोखले राष्ट्रवाद को पहचानें जो मुख्यधारा की राजनीति में रहने के लिए नुपुर शर्मा हों या फिर रियाज अटारी या तालिब हुसैन जैसे फ्रिंज तत्वों को प्रश्रय दे रही है।

Edited By: Arun Kumar Singh