Move to Jagran APP

I.N.D.I.A गठबंधन ने EVM-VVPAT को एक बार फिर बनाया मुद्दा, अपनी चिंताओं के समाधान को लेकर चुनाव आयोग पर बनाया दबाव

लोकसभा चुनाव से पहले I.N.D.I.A गठबंधन ने इवीएम-वीवीपैट से जुड़े अपने कुछ सवालों का स्पष्टीकरण हासिल करने के लिए चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है। कांग्रेस के संचार महासचिव जयराम रमेश ने मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार को पत्र लिखकर कहा कि पारदर्शिता को लेकर कुछ सवाल हैं जिसपर स्थिति स्पष्ट की जानी चाहिए। लिहाजा I.N.D.I.A के प्रतिनिधिमंडल को जल्द समय दें।

By Jagran News Edited By: Babli Kumari Published: Tue, 02 Jan 2024 03:00 PM (IST)Updated: Tue, 02 Jan 2024 08:15 PM (IST)
I.N.D.I.A गठबंधन ने EVM-VVPAT को एक बार फिर बनाया मुद्दा, अपनी चिंताओं के समाधान को लेकर चुनाव आयोग पर बनाया दबाव
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश (फाइल फोटो)

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। विपक्षी I.N.D.I.A गठबंधन ने चुनाव आयोग के सामने ईवीएम का मुद्दा एक बार फिर उठाया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने विपक्षी दलों की ओर से मुख्य चुनाव आयुक्त को चिट्ठी लिखकर ईवीएम और वीवीपैट पर स्पष्टीकरण के लिए I.N.D.I.A प्रतिनिधिमंडल से मिलने के लिए समय मांगा है। 

loksabha election banner

I.N.D.I.A गठबंधन के शीर्षस्थ नेताओं की 19 दिसंबर को हुई चौथी बैठक में इवीएम-वीवीपैट मुद्दे पर हुई चर्चा के परिप्रेक्ष्य में जयराम रमेश ने मुख्य चुनाव आयुक्त को लिखे अपने पत्र में कहा है कि वीवीपैट से जुड़े कुछ सवालों के बारे में स्पष्टीकरण हासिल करने के लिए विपक्षी नेता चुनाव आयोग से मिलने का काफी वक्त से प्रयास कर रहे हैं।

'EVM कार्यप्रणाली की अखंडता के बारे में कई संदेह'

I.N.D.I.A गठबंधन की 19 दिसंबर की बैठक में चुनावों की पवित्रता और पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए मतगणना इवीएम मशीन की जगह उससे जुड़ी वीवीपैट से निकलने वाली पर्चियों की शत प्रतिशत गिनती करने की राय जाहिर करते हुए प्रस्ताव पारित किया गया। इसमें विपक्षी दलों ने कहा था कि इवीएम कार्यप्रणाली की अखंडता के बारे में कई संदेह हैं। ऐसे में सुझाव दिया गया है कि वीवीपैट पर्चियां मतदाताओं को सौंपी जानी चाहिए और इसकी 100 प्रतिशत गिनती बाद में की जानी चाहिए।

ECI से मिलने की कर रहे हैं कोशिश - जयराम रमेश

राजीव कुमार को लिखे अपने पत्र में कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि 20 दिसंबर 2023 को, भारतीय दलों के नेताओं ने नेताओं की बैठक में पारित एक प्रस्ताव के आधार पर "वीवीपीएटी के उपयोग पर चर्चा करने और सुझाव देने" के लिए ईसीआई के साथ एक नियुक्ति का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा, "हम इस प्रस्ताव की एक प्रति सौंपने और चर्चा करने के लिए ईसीआई से मिलने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन अब तक ऐसा करने में सफल नहीं हुए हैं।"

जयराम रमेश ने VVPAT पर बातचीत के लिए ECI से किया अनुरोध 

रमेश ने कहा, "मैं एक बार फिर भारतीय पार्टी नेताओं की 3-4 सदस्यीय टीम को आपसे और आपके सहयोगियों से मिलने और वीवीपैट पर अपना दृष्टिकोण रखने के लिए कुछ मिनट का समय देने का अवसर देने का अनुरोध करता हूं।" उन्होंने कहा कि पिछले साल 9, 10, 16, 18 और 23 अगस्त को ईसीआई के साथ भारतीय पार्टियों के प्रतिनिधिमंडल की बैठक के लिए कई अनुरोधों के साथ इसका समर्थन किया गया था।

30 दिसंबर 2023 को लिखे अपने पत्र में, कांग्रेस महासचिव ने यह भी बताया कि 9 अगस्त, 2023 को भारतीय पार्टियों की ईवीएम संबंधी चिंताओं पर ईसीआई को एक ज्ञापन सौंपा गया था।

यह भी पढ़ें- 'नेहरू नहीं पटेल की नीति पर चलेगी मोदी सरकार', चीन को लेकर जयशंकर ने दिया सख्त संदेश


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.