विजयवाड़ा, आइएएनएस/एएनआइ। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू को विजयवाड़ा के गन्नावरम हवाई अड्डे पर तलाशी ली गई। पूर्व मुख्यमंत्री को विमान तक वीआइपी वाहन से नहीं जाने दिया गया और उन्हें आम यात्रियों के साथ बस में सफर करना पड़ा।

शुक्रवार को एक सुरक्षाकर्मी ने प्रवेश द्वार पर नायडू की तलाशी ली। तेदेपा प्रमुख और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष को वीआइपी वाहन से विमान तक पहुंचने की अनुमति नहीं दी गई। इस घटना पर तेदेपा ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। पार्टी ने आरोप लगाया है कि भाजपा और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी बदला लेने में जुटी है।

तेदेपा नेता और राज्य के पूर्व गृह मंत्री चिन्ना राजप्पा ने कहा कि अधिकारियों की प्रवृत्ति न केवल अपमानजनक है बल्कि नायडू की सुरक्षा से भी समझौता करने वाला है। उन्होंने कहा कि नायडू को इससे पहले कभी ऐसी स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा था। कई साल तक वह विपक्ष में रहे थे।

जेड प्लस सुरक्षा वापस लेने पर अर्ध नग्न प्रदर्शन

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री नायडू की जेड प्लस सुरक्षा वापस लेने पर तेदेपा के दो विधायकों और कार्यकर्ताओं ने शनिवार को अर्ध नग्न प्रदर्शन किया।

वासुपल्ली गणेश कुमार और वेलागापुदुमी राम कृष्ण ने आरोप लगाया कि सामान्य यात्री की तरह नायडू की तलाशी ली गई। उन्होंने कहा कि नायडू नक्सलियों की हिट लिस्ट में हैं और सरकार ने बदला लेने के लिए उनकी सुरक्षा वापस ले ली है। वह 14 साल तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे हैं और उनके साथ यदि कुछ होता है तो राज्य जल उठेगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस