नई दिल्ली [जेएनएन]। भाजपा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली मासिक पुण्यतिथि पर विशेष श्रद्धांजलि देगी। एक उत्कृष्ट राजनीतिज्ञ होने के साथ-साथ उनकी पहचान एक कवि की भी थी और इसीलिए 16 सितंबर को काव्यांजलि पाठ का आयोजन किया जाएगा। उनकी रचनाओं की रिकार्डिग भी सुनाई जाएगी और कविता पाठ आदि का आयोजन भी होगा। यह कार्यक्रम लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों के करीब 4,000 से ज्यादा स्थानों पर आयोजित किए जाएंगे। इसका ऐलान करने खुद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आए।

इसी माह 16 तारीख को वाजपेयी का देहावसान हुआ था और यह भी साबित हो गया था कि उनकी लोकप्रियता सीमाओं से परे थी। भाजपा भी वाजपेयी की याद में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। देश भर में उनकी अस्थिकलश यात्रा निकल रही है। उसे देश की सौ पवित्र नदियों में विसर्जित किया जा रहा है। अब उनके कवि व्यक्तित्व और विकास पुरुष की छवि को श्रद्धांजलि दी जाएगी।


गुरुवार को अमित शाह ने बताया कि काव्यांजलि के अलावा पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर दीन दयाल उपाध्याय के जन्मदिन 25 सिंतबर तक अटल जी की स्मृति में सेवा सप्ताह मनाया जाएगा और यह कार्यांजलि होगी।

ध्यान रहे कि 17 सितंबर को भाजपा सेवा दिवस केरूप में मनाती है। सेवा सप्ताह में देश की देशभर की करीब 20,000 झुग्गी, झोपडि़यों और गरीब बस्तियों में मेडिकल शिविर लगाए जाएंगे और साफ-सफाई के कार्यक्त्रम आयोजित किए जाएंगे। जहां लोग मेडकिल चेकअप, गर्भवती महिलाओं की जांच, बल्ड टेस्ट, टीकाकरण, करा सकेंगे। इसके अलावा सेवा सप्ताह के तहत आयुष्मान भारत योजना के प्रति जागरुकता फैलाने का काम किया जाएगा, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग आयुष्मान योजना का लाभ उठा सकें। 

Posted By: Vikas Jangra