नई दिल्ली। कांग्रेस ने भले ही हिमाचल प्रदेश में चुनाव जीत लिया हो, लेकिन भारतीय जनता पार्टी को कांग्रेस की इस जीत में कांग्रेस नेता राहुल गांधी की कोई भूमिका नजर नहीं आ रही है। बता दें कि हिमाचल प्रदेश में प्रियंका गांधी ने 5 रैलियां की थी और भारी जनसभा को संबोधित किया था। वहीं, राहुल गांधी और सोनिया गांधी ने हिमाचल प्रदेश में हो रहे चुनावी प्रचार से दूरी बनाए रखी थी।

अब हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस को मिली बड़ी जीत पर भाजपा के आई टी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने तंज कसा है। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा है कि हिमाचल की जीत से कांग्रेस पार्टी को सबक मिला है कि राहुल गांधी को राज्य के चुनावों से दूर रखें।

वहीं, उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में लिखा कि कल, दो राज्यों के चुनावों के परिणाम घोषित किए गए। दोनों राज्यों में मौजूदा सरकार भाजपा की ही थी, जिसने एक राज्य को जीता और एक राज्य हार गई, लेकिन चुनाव के दौरान दोनों ही राज्यों में कही भी हिंसा, बूथ कैप्चरिंग, धमकी, दुष्कर्म या किसी कार्यकर्ताओं की हत्या या फिर कोई अन्य राजनीतिक घटना घटना दर्ज नहीं हुई है। वहीं, पिछले साल पश्चिम बंगाल के नतीजों के बाद ममता बनर्जी के राज में यही सब हुआ था।

गुजरात में भाजपा तो हिमाचल में कांग्रेस ने किया कब्जा

गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे 8 दिसंबर को घोषित किए गए। भारतीय जनता पार्टी ने भाजपा में रिकार्ड सीटें जीतकर अपनी सत्ता बरकरार रखी, वहीं हिमाचल प्रदेश में परंपरा कायम रही। यहां कांग्रेस ने सत्ता में फिर वापसी की है। इसके अलावा, उत्तर प्रदेश की एक संसदीय और दो विधानसभा सीटों के साथ ही बिहार, राजस्थान, ओडिशा, छत्तीसगढ़ की एक-एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुआ था। कुल मिलाकर 257 सीटों पर चुनाव हुआ था।

चुनाव से जुड़ी बड़ी बातें

  • गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अभी तक का अपना सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया। पार्टी ने 182 सीटों में से रिकार्ड 156 सीटों पर जीत दर्ज की है। यह किसी भी पार्टी का अब तक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है। पिछली बार भाजपा ने 99 सीटों पर जीत हासिल की थी। पार्टी लगातार सातवीं बार राज्य की सत्ता पर काबिज हुई है।
  • कांग्रेस ने गुजरात विधानसभा चुनाव के इतिहास में अब तक अपना सबसे खराब प्रदर्शन किया है। पार्टी को इस बार सिर्फ 17 सीटें मिली हैं। पिछली बार कांग्रेस ने 77 सीटों पर जीत दर्ज की थी। कांग्रेस का इससे पहले सबसे खराब प्रदर्शन 20 सीटों का था।
  • गुजरात विधानसभा चुनाव आम आदमी पार्टी के लिए खुशखबरी लेकर आई। यहां पांच सीटें और करीब 13 फीसद वोट हासिल कर वह अब राष्ट्रीय पार्टी बन गई है। वहीं, हिमाचल प्रदेश में पार्टी का खाता तक नहीं खुल सका। हिमाचल प्रदेश में कुल 68 विधानसभा सीटें हैं।
  • भाजपा गुजरात में 1995 के बाद से कभी नहीं हारी है। उसने अपने 27 साल के शासन में सत्ता विरोधी लहर का सामना नहीं किया है। इसके पहले माकपा ही ऐसी पार्टी है, जिसने लगातार सात विधानसभा चुनाव जीते हैं। एक साल पहले मुख्यमंत्री का पद संभालने वाले भूपेंद्र पटेल 12 दिसंबर (सोमवार) को दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ लेंगे।

यह भी पढ़ें- Sonia Gandhi's Birthday: पीएम मोदी ने सोनिया गांधी के जन्मदिन पर दी बधाई, स्वस्थ जीवन के लिए की कामना

यह भी पढ़ें- Fact Check: पीएम मोदी और उनकी मां की एडिटेड फोटो वायरल, जशोदाबेन नहीं थीं वहां पर

Edited By: Versha Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट