रायपुर, एजेंसी। Ajit Jogi Dies: छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का शुक्रवार को निधन हो गया। 74 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। जोगी को पिछले 9 मई को कार्डियक अरेस्ट आने के कारण नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय से जोगी कोमा में थेे । उनके निधन पर गणमान्‍य लोग उन्‍हें याद कर रहे हैं। 

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ। वे बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी और कुशल प्रशासक थे। छत्तीसगढ़ राज्य और वहां के लोगों के विकास के लिए वे बहुत सक्रिय रहे। उनके परिवारजन, मित्रों और समर्थकों के प्रति मेरी शोक-संवेदनाएं!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'अजीत जोगी जी को जनसेवा का शौक था। इस जुनून ने उन्हें नौकरशाह और एक राजनीतिक नेता के रूप में कड़ी मेहनत की। वह गरीबों, विशेषकर आदिवासी समुदायों के जीवन में एक सकारात्मक बदलाव लाने के लिए प्रयासरत रहे। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार के प्रति संवेदना। नमन।' 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करता हूं। ईश्वर शोक संतप्त परिवार को इस दुखद नुकसान का सामना करने की शक्ति दे। ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति।

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पूर्व सांसद और छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बारे में सुनकर मुझे दुख हुआ। इस दुख की घड़ी में उनके परिवार, दोस्तों और अनुयायियों के प्रति मेरी संवेदना। उनको शांति मिले। 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी जी के निधन से गहरा दुख हुआ। वह एक गर्मजोशी के साथ मिलने वाले और गतिशील व्यक्तित्व के धनी थे। सार्वजनिक जीवन में उनका योगदान उल्लेखनीय था। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदना। ओम शांति!

त्रिपुरा के राज्यपाल और छत्‍तीसगढ़ के पूर्व सांसद रमेश बैस ने कहा कि जोगी जी के निधन की खबर सुनकर सहसा यकीन नही हुआ कि आज जोगी जी की जिजीविषा के आगे मौत जीत जाएगी। अजित जोगी जी का निधन छत्तीसगढ़ राज्य के एक अनमोल रत्न के खोने जैसा है, अजित जोगी जी के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं। इस दुःखद घड़ी में ईश्वर से कामना करता हूं। स्व अजित जोगी जी को अपने परमधाम में स्थान दें एवं परिवार को सबल बनाये रखें।

छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्‍हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए एक बड़ी राजनीतिक क्षति है। हम सभी प्रदेशवासियों की यादों में वो सदैव जीवित रहेंगे। विनम्र श्रद्धांजलि। ॐ शांति:। उन्‍होंने घोषणा की कि राज्य में आज से तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया जाता है। इस दौरान राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा और इस दौरान कोई भी शासकीय समारोह आयोजित नहीं किए जाएंगे। स्वर्गीय जोगी का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ होगा।

असम के मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी जी के आकस्मिक निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदना और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं। 

महाराष्‍ट्र के मंत्री और कांग्रेस नेता बाला साहेब थोराट ने कहा कि पूर्व छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ। उनके परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। उनकी आत्मा को शांति मिले।

ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि वयोवृद्ध नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निधन के बारे में जानने पर गहरा दुख हुआ। मेरे विचार और प्रार्थनाएं शोक संतप्त परिवार के साथ हैं।

उत्‍तर प्रदेश की पूर्व मुख्‍यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के नेता व आदिवासी बाहुल्य छत्तीसगढ़ राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी के निधन की खबर अति-दुःखद। उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना। वे काफी लम्बे समय तक सार्वजनिक जीवन में सक्रिय रहे। कुदरत उनके परिवार व समर्थकों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति दे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर कहा कि अजीत जोगी के दुर्भाग्यपूर्ण निधन के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ। उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं। हमने संसद में साथ काम किया। छत्‍तीसगढ़ ने उनके योगदान के लिए याद किया किया जाएगा और सार्वजनिक जीवन में उनकी भूमिका को भी याद किया जाएगा। ओम शांति। 

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस