हैदराबाद, एएनआइ। Pulwama Terror Attack पुलवामा आतंकी हमले के बाद एआइएमएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि इमरान खान अपने आतंकी संगठनों पर काबू करें। ओवैसी ने मसूद अजहर और हाफिज सईद की तुलना शैतान से की। उन्होंने कहा कि इमरान खान लश्कर-ए-शैतान(लश्कर-ए-तैयबा) और जैश-ए-शैतान (जैश-ए-मुहम्मद) को काबू में रखें।

ओवैसी ने कहा कि पाकिस्तानी पीएम हमेशा टीपी सुल्तान और बहादुर शाह जफर की बात अपने संसद में करते हैं। टीपू सुल्तान हिंदुओं का दुश्मन नहीं था। लेकिन वह अंग्रेजी सल्लतन का विरोधी थी। ओवैसी ने कहा कि इमरान हमेशा परमाणु बम की बात करते हैं, उन्हें इस चीज से डरना चाहिए कि परमाणु बम भारत के पास भी है।

हैदराबाद में एक रैली को संबोधित करने के दौरान उन्होंने भाजपा पर भी निशाना साधा। ओवैसी ने कहा कि भाजपा कह रही हमारा बूथ मजबूत है, मैं कह रहा हूं कि मेरी सरहद मजबूत तो मेरा देश मजबूत।


इससे पहले भी अभी हाल में ही असदुद्दीन ओवैसी ने इमरान खान को नसीहत दी थी। पुलवामा आतंकी हमले के बाद ओवैसी ने कहा था कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान अपने चेहरे से शराफत का मुखौटा हटा लें। उन्होंने कहा था कि यह हमला पाकिस्तान सरकार, पाकिस्तानी आर्मी और आइएसआइ के इशारे पर हुआ है। इस हमले की जिम्मेदारी लेने वाले जैश-ए-मुहम्मद का सरगना मसूद अजहर मौलाना नहीं 'शैतान का चेला' है। उन्होंने मसूद अजहर पर निशाना साधते हुए कहा था कि जिन लोगों ने हमारे 40 जवानों की हत्या की है और उसकी जिम्मेदारी ली है, वे जैश-ए-मोहम्मद नहीं जैश-ए-शैतान हैं।

ओवैसी ने कहा, 'मुहम्मद का सैनिक किसी व्यक्ति की हत्या नहीं करता, वह मानवता के प्रति दयालु है। हम पाकिस्तान के पीएम को बताना चाहेंगे कि वे टीवी के सामने बैठकर भारत को संदेश न दे, जो वे चाहते हैं। आपने इसे शुरू किया है। यह पहला हमला नहीं था। पठानकोट, उरी और अब पुलवामा। हम पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को कहना चाहते हैं अब आप अपने चेहरे से मासूमियत का नकाब हटा दो।

 

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप