अमरावती, एएनआइ। आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम एन चंद्रबाबू नायडू के आवास 'प्रजा वेदिका' को तोड़ा जा रहा है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू के इस बंगले 'प्रजा वेदिका' को तोड़ने का आदेश दिया है। मंगलवार को जेसीबी मशीनों से इस बिल्डिंग को तोड़ने का काम शुरू हो चुका है और ये फिलहाल जारी है। इस बंगले का निर्माण आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम एन चंद्रबाबू नायडू की सरकार के कार्यकाल के दौरान किया गया था।

चंद्रबाबू नायडू के यहां कृष्णा नदी के किनारे स्थित एक इमारत की तोड़फोड़ बुधवार को तनाव और कड़ी सुरक्षा के बीच जारी  है, क्योंकि आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय ने बंगले विध्वंस पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी। अधिकारियों ने 2017 की आधिकारिक बैठकों का आयोजन करने के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री नायडू द्वारा निर्मित 'प्रजा वेदिका' के मुख्य भवन को ध्वस्त करना शुरू कर दिया।

'प्रजा वेदिका' में सीएम वाइएस जगनमोहन रेड्डी की जिला कलेक्टरों और पुलिस अधीक्षकों के साथ पहली बैठक के कुछ घंटे बाद इस इमारत को तोड़ने का काम शुरू हुआ। उन्होंने घोषणा की कि अनधिकृत निर्माणों के खिलाफ उनकी सरकार का अभियान सभी मानदंडों का उल्लंघन करते हुए नदी के तल में बने इस भवन के विध्वंस से शुरू हुआ।

'प्रजा वेदिका' का निर्माण सरकार ने आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एपीसीआरडीए) के जरिए तत्कालीन मुख्यमंत्री आवास के एक विस्तार के रूप में किया था। पांच करोड़ रुपये में निर्मित इस आवास का इस्तेमाल नायडू आधिकारिक उद्देश्यों के साथ ही पार्टी की बैठकों के लिए करते थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस