गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना वायरस के चलते ई वीजा धारक विदेशी पर्यटकों पर नेपाल से भारत प्रवेश पर लगाए गए रोक के आदेश वापस ले लिया गया है। प्रतिबंध हटने का आदेश आते ही सीमा के दोनों तरफ रुके हजारों की संख्या में  विदेशी पर्यटकों ने राहत की सांस ली है। मंगलवार से सोनौली बार्डर पर विदेशी पर्यटकों का नेपाल आना जाना शुरू हो गया है।

सोमवार को जारी हुआ था आदेश

सोमवार की शाम चार बजे सोनौली आव्रजन कार्यालय से निर्देश जारी हुआ कि ई वीजाधारक सभी विदेशियों की नेपाल से भारत आने पर रोक लगा दी गई है। जब यह निर्देश आया तो नेपाल से भारत आ रहे करीब 700 सौ विदेशी नेपाल के बेलहिया व भारत से नेपाल के लुंबिनी जा रहे विदेशियों की 10 पर्यटन बसें सोनौली बार्डर पर रुक गईं। थाईलैंड, श्रीलंका व म्यांमार के पर्यटकों ने जैसे तैसे रात गुजारी। अचानक आए फरमान  से सभी परेशान हो गए। फिर वे संबंधित टूर एंड ट्रैवेल संचालकों से लगायत दूतावास तक संपर्क साधने लगे। बढ़ते दबाव व सरहद पर असहज होती स्थिति के मद्देनजर आव्रजन विभाग के पास रोक निर्देश को वापस लिए जाने के आदेश आया।

भारत नेपाल सीमा पर शुरू हुआ विदेशी पर्यटकों का आवागमन

सोनौली आव्रजन कार्यालय पर तैनात अधिकारियों ने बताया कि सिर्फ चीन के नागरिकों के भारत प्रवेश पर लगाई गई रोक जारी रहेगी। अन्य सभी देश के नागरिकों को जरूरी कागजात दिखाए जाने व सरहद पार करने की कागजी औपचारिक पूरा करने के बाद जाने दिया जाएगा। पर्यटकों की आवाजाही शुरू हो गई है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस