मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्‍ली, एएनआइ। दो देशाें की अपनी पांच दिवसीय यात्रा के दौरान सोमवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जापान की राजधानी टोकियो पहुंच गए हैं। रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार जापान यात्रा के दौरान राजनाथ जापान में अपने समकक्ष ताकेशी इवाया के साथ वार्षिक रक्षा मंत्रिस्तरीय संवाद की सह-अध्यक्षता करेंगे। भारतीय रक्षा मंत्री की यात्रा ऐसे समय हो रही है, जब जापान सरकार ने इस बात का ऐलान किया है कि वह चीन के साथ विवादित द्वीपों की निगरानी के लिए अपनी नौसेना पुलिस की तैनाती करेगी।  बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्विपक्षीय वार्ता के लिए जापान और दक्षिण कोरिया के दौरे पर हैं। 
रक्षा मंत्री की इस यात्रा का मकसद नई दिल्‍ली और टा‍ेकियो के बीच सामरिक और वैश्विक साझेदारी को और मजबूत करना है। इसके अलावा दोनों नेताओं के बीच पारस्परिक रक्षा और सुरक्षा के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होगी। इस दौरान राजनाथ सिंह जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाकात भी करेंगे।
अपनी पांच दिवसीय यात्रा के दौरान दक्षिण कोरिया में राजनाथ सिंह अपने समकक्ष जियोंग केइयोंग-डू के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। वे दक्षिण कोरिया के प्रधानमंत्री श्री ली नाक-योन से भेंट करेंगे। उनकी दक्षिण कोरिया की यात्रा ऐसे समय हो रही है जब उत्‍तर कोरिया लगातार अपनी मिसाइल का परीक्षण कर रहा है और दक्षिण कोरिया को सामरिक खतरा उत्‍पन्‍न हो गया है। वह दक्षिण कोरिया की राजधानी में रक्षा उद्योग सहयोग के लिए होने वाली वार्ता का भी हिस्सा होंगे। यहां सियोल में बिजनेस टू गवर्नमेंट (बी2जी) बैठक में दोनों देशों के रक्षा उद्योग से जुड़े लोग शामिल होंगे।

यह भी पढ़ें: कुलभूषण जाधव को आज Consular Access देगा पाकिस्तान, भारत बोला- नहीं चलेगी कोई शर्त

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने विदेशी दौरे की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर भी दी है। उन्‍होंने जापानी भाषा में भी कुछ ट्वीट किए हैं। एक ट्वीट में उन्‍होंने बताया कि वह जापान के पीएम शिंजो आबे से भी मिलेंगे। भारत और पाकिस्‍तान के बीच कश्‍मीर मुद्दे को लेकर चल रहे विवाद के दौरान रक्षामंत्री का ये दौरा काफी अहम माना जा रहा है।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप