लाहौर, आइएएनएस। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरयम नवाज की जगह चुनाव में दूसरे प्रत्याशी को उतारने का फैसला लिया है। अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री की बेटी को चुनाव लड़ने से अयोग्य करार दिया है।

पार्टी ने एनए-127 सीट से लाहौर शाखा के अध्यक्ष अली परवेज मलिक को उतारने का फैसला लिया है। इस सीट से मरयम को प्रत्याशी बनाया जाना था। इसके साथ ही प्रांतीय असेंबली सीट पीपी-173 (नानकाना साहिब) से इरफान शफी खोखर पार्टी के प्रत्याशी होंगे।

शुक्रवार को पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने शरीफ परिवार से संबंधित एवेनफील्ड मामले में फैसला सुनाया। पूर्व प्रधानमंत्री को 10 साल कठोर कारावास और भारी जुर्माना लगाया। उनकी बेटी मरयम को सात साल और दामाद कैप्टन मुहम्मद सफदर को एक साल कैद की सजा सुनाई है।

शनिवार को चुनाव आयोग ने जहां से मरयम और उनके पति सफदर को प्रत्याशी बनाया गया था, वहां के मतपत्रों की छपाई रोकने का आदेश दिया। चुनाव आयोग ने कहा कि मरयम और सफदर का नाम मतपत्र से हटा लिया जाएगा। अदालत से आदेश मिलने के बाद मतपत्रों की छपाई होगी। सफदर एनए-14 मानसेरा से प्रत्याशी थे।

मनी लांड्रिंग मामले में जरदारी के करीबी को हिरासत में लिया
पाकिस्तान के प्रमुख बैंकर और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के करीबी को जांच एजेंसी ने मनी लांड्रिंग मामले में हिरासत में लिया है। संघीय जांच एजेंसी ने सेंट्रल डिपॉजेट्री कंपनी के चेयरमैन और सुमिट बैंक के वाइस चेयरमैन हुसैन लवाई को कराची में हिरासत में लिया। हिरासत में लेने से पहले एजेंसी ने उन्हें दुबई की यात्रा करने से रोक दिया।

 

By Manish Negi