टोक्यो, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जापान दौरे पर हैं, जहां टोक्यो में पीएम भारतीय समुदाय के बीच भी पहुंचे। उन्होंने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह दिवाली में दीपक जहां रहता है, वहां उजाला फैलाता रहता है, उसी तरह आप भी जापान और दुनिया के हर कोने में अपना और देश का नाम रोशन करें, यही मेरी आप सबके लिए बहुत शुभकामनाएं हैं। उन्होंने कहा कि यहां पहुंचकर आत्मीयता का अनुभव होता है। पीएम मोदी ने कहा कि देश बड़े बदलाव के दौर से गुजर रहा है।

पीएम के भाषण की मुख्य बातें

  • पीएम मोदी ने कहा, ‘देश बड़े बदलाव के दौर से गुजर रहा है। दुनिया मानवता के क्षेत्र में भारत की तरफ से किए गए प्रयासों की सराहना कर रही है। भारत में जो नीतियों का निर्माण हो रहा है, जनसेवा के क्षेत्र में जो काम हो रहा है उसके लिए देश को सम्मानित किया जा रहा है।'
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज भारत डिजिटल संसाधनों के क्षेत्र में शानदार तरीके से प्रगति कर रहा है। गांव-गांव तक ब्राडबैंड की कनेक्टिविटी (इंटरनेट) पहुंच रही है। 100 करोड़ मोबाइल फोन भारत में हैं। मोदी ने कहा कि एक जीबी डाटा आज कोल्ड ड्रिंक की छोटी बोतल से भी सस्ते में उपलब्ध है। यह डेटा सेवाओं की डिलीवरी में औजार के रूप में काम कर रहा है।
  • मेक इन इंडिया का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, 'मेक इन इंडिया आज ग्लोबल ब्रांड के तहत उभर रहा है। हम न केवल भारत के लिए बल्कि दुनिया के लिए बेहतरीन गुणवत्ता वाले उत्पादों का निर्माण कर रहे हैं। भारत विशेष रूप से इलेक्ट्रॉनिक्स और ऑटोमोबाइल विनिर्माण के क्षेत्र में वैश्विक केंद्र बन रहा है। हम तेजी से मोबाइल फोन निर्माण में नंबर-1 की तरफ बढ़ रहे हैं। 
  • पीएम ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत के बढ़ते कद का जिक्र करते हुए कहा, 'पिछले साल हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 100 से अधिक उपग्रहों को लॉन्च करके रिकॉर्ड बनाया था। हमने चंद्रयान और मंगलयान को बहुत कम खर्च पर अंतरिक्ष भेजा। भारत 2022 तक 'गगनयान' को अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी कर रहा है। यह सभी तरीकों से भारतीय होगा और इसमें यात्रा करने वाला एक भारतीय भी होगा।
  • विदेशी धरती पर सरदार पटेल को याद करते हुए पीएम ने कहा, 'हम हर साल सरदार पटेल की जयंती मनाते हैं, लेकिन इस बार हम पूरी दुनिया का ध्यान आकर्षित करेंगे। गुजरात में उनके जन्म स्थान पर सरदार पटेल की सबसे ऊंची मूर्ति का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल की प्रतिभा जितनी ऊंची थी, प्रतिभा भी उतनी ही ऊंची बनेगी।
  • पीएम ने कहा, 'जापान में बसे भारतीयों ने जापानी दोस्तों के साथ मिलकर हमेशा से ही देश के लिए बहुत बड़ा योगदान दिया है। स्वामी विवेकानंद जी को, नेताजी सुभाष चंद्र बोस को, भारत की आज़ादी के आंदोलन को जो सहयोग जापान से मिला है, वो करोड़ों भारतीयों के दिल में हमेशा रहेगा।'

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय जापान दौरे पर हैं। मोदी 13वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए शनिवार की शाम को यहां पहुंचे थे। प्रधानमंत्री बनने के बाद अपने जापानी समकक्ष शिंजे एबी के साथ पीएम मोदी की यह 12वीं मुलाकात है। दोनों नेताओं के बीच पहली मुलाकात सितंबर 2014 में हुई थी। इसके बाद कई अलग-अलग मौकों पर दोनों की मुलाकात होती रही हैं।

Posted By: Nancy Bajpai

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस