गोरखपुर, जेएनएन। Coronavirus Effect :  विदेशियों के लिए 15 मार्च से सील हुई भारत-नेपाल सीमा को अब पूरी तरह से सील कर दिया गया है। 

कोरोना वायरस के कारण बीते 15 मार्च को भारत और नेपाल ने अपनी-अपनी सीमा को सील कर दिया था लेकिन नेपाल ने भारतीय और भारत ने नेपाल और भूटान के लोगों को इससे मुक्त रखा था।

लेकिन इस बीच कोरोना वायरस के कारण स्थिति गंभीर होने के बाद सोमवार को दोनों देश के अधिकारियों की बैठक के बाद सीमा पूरी तरह से सील कर दी गई। नेपाल ने चीन की तरफ से आने वाले मार्गों को भी पूरी तरह से बंद कर दिया है।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इससे बचाव के लिए भारत-नेपाल के जनपद स्तरीय अधिकारियों की समन्वय बैठक सोमवार को सिद्धार्थनगर जिले के एसएसबी 43वीं वाहिनी के  चौकी ककरहवा के परिसर में हुई।

बैठक में दोनों देशों के अधिकारियों ने निर्णय लिया कि सीमाई क्षेत्र में कोरोना से जंग एक साथ मिलकर लड़ा जाएगा। सीमाई क्षेत्र में एसएसबी और एपीएफ के जवान मिलकर पेट्रोलिंग करेंगे और लोगों को कोरोना से बचाव हेतु साफ सफाई पर भी जागरूक करेंगे। नेपाल सीमा क्षेत्र के जनपद रूपनदेही में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद यह कदम उठाए गया है। 

नेपाल से सटे भारत के सिद्धार्थनगर जनपद के ककरहवा, अलीगढ़वा, धनगढ़वा, बजहा आदि शहरों को लाकडाउन कर दिया गया है। इन जगहों पर सिर्फ जरूरत की चीजों वाली दुकानें जैसे राशन, दवाई, सब्जी, दूध की दुकानों को खोलने की लिए छूट दी गई है। दोनों देशों के अधिकारियों ने इस बात पर भी जोर दिया है कि किसी भी वस्तु की कालाबाज़ारी नहीं होने पाएगी। इसकी पूरी निगरानी की जा रही है। कालाबाज़ारी की शिकायत मिलने पर प्रशासन द्वारा सख्त कार्यवाही की जाएगी।

बैठक में भारत की तरफ से सिद्धार्थनगर के डीएम दीपक मीणा, पुलिस अधीक्षक विजय ढुल, एसएसबी 43वीं वाहिनी के उप कमांडेंट मनोज कुमार,  उप-जिलाधिकारी उमेश चंद निगम, सीएचसी प्रभारी बर्डपुर डॉ. सुबोध चंद्रा, थानाध्यक्ष मोहाना राधेश्याम रॉय, चौकी इंचार्ज ककरहवा सतीश कुमार सिंह, एसएसबी उपनिरीक्षक मुकेश चौधरी तथा नेपाल के तरफ से सीडीओ महादेव पंत, एसपी एपीएफ तेजप्रसाद पोखरेल, एसपी नेपाल पुलिस हेमकुमार थापा, एसपी इन्वेस्टिगेशन नवीन राज अधिकारी, सीएमओ रुपनदेही राजेन्द्र गिरि, एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर जनक थापा, धर्मेंद्र कुमार थाना इंस्पेक्टर एपीएफ, थानाध्यक्ष लुम्बिनी ईश्वर कार्की, चौकी प्रभारी कालीदह सन्तोष बुड़ा सहित तमाम लोग शामिल रहे।

नेपाल में भी लाॅकडाउन 

भारत में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जनता कर्फ्यू की अपील के बाद रविवार को नेपाल ने भी इस पर अमल शुरू कर दी। नेपाल ने भारत और चीन से लगी सभी सीमा को सोमवार से एक सप्ताह के लिए पूरी तरह से सील कर दिया। इस दौरान सीमा पार से किसी भी व्यक्ति या किसी भी वाहन के आने जाने की अनुमति नहीं रहेगी। सीमा क्षेत्र में कोई भी दुकान नहीं खुली है। दोपहर एक बजे से 3 बजे के बीच जरूरत की चीज़ों जैसे राशन, सब्जी, दवा और दूध की दुकानें खोलने के आदेश होंगे। इस दौरान लोग एक जिले से दूसरे जिले में नहीं आए। नेपाल में सभी स्कूल, कॉलेज, जिम भी बंद किया गया है। शादी-विवाह सहित किसी भी तरह के अन्य कार्यक्रमों पर भी रोक रहेगी।एपीएफ इंस्पेक्टर धर्म कुमार थापा ने बताया कि सरकार के आदेश का पालन न करने वाले पर बकाया कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस