एडिलेड। आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज वर्तमान टेस्ट सीरीज में थ्रोट बॉल या परफ्यूम बॉल यानि शरीर को निशाना बनाकर की गई गेंद का भरपूर उपयोग कर रहे हैं। यह वे गेंदें हैं जिनके जरिए मौजूदा सीरीज में उन्होंने भारतीय पुछल्ले बल्लेबाजों को नियमित रूप से दहशत में डाला है।

पीटर सिडल एंड कंपनी जिस तरह से जहीर खान, उमेश यादव और इशांत शर्मा को थ्रोट बॉल से निशाना बना रहे हैं, उसे देखते हुए इन तीनों को दुर्घटना बीमा करवाने का पूरा अधिकार है। यह ऐसी गेंद है जिसमें बल्ले या स्टंप के बजाय बल्लेबाज के शरीर को निशाना बनाया जाता है। भारतीय शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के सामने संयमित और अनुशासित गेंदबाजी करने वाले आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज निचले क्रम के बल्लेबाजों पर अपना पूरा गुस्सा उतार रहे हैं। भारत जैसे ही छठा विकेट गंवाता है आस्ट्रेलिया का प्रत्येक तेज गेंदबाज गेंद अपने हाथ में लेना चाहता है, चाहे वह पुरानी हो या नई। इसलिए बेन हिल्फेनहास को पिछले सप्ताह पर्थ में विनय कुमार, जहीर खान और इशांत शर्मा को पवेलियन भेजने के लिए केवल पांच गेंदों की जरूरत पड़ी।

आखिरी गेंद पर दो रन बन सकते थे लेकिन विराट कोहली ने उमेश यादव को तेज गेंदबाजों से बचाने के चक्कर में रन नहीं लिए। वह शायद भूल गए थे कि दो रन लेने के बाद यादव नान स्ट्राइकर छोर पर रहेंगे। जेम्स पैटिंसन ने मेलबर्न में जहीर खान के खिलाफ इतनी आक्रामक गेंदबाजी की कि लगातार चार बाउंसर करने के कारण उन्हें आधिकारिक चेतावनी दी गई थी। आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों की इस रणनीति पर पहले किसी ने ध्यान नहीं दिया लेकिन जब मेलबर्न में आर अश्विन ने 31 रन बनाए और उसके बाद परफ्यूम बॉल के सामने असहज दिखे तो आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों को लग गया कि इससे वे भारतीय पुछल्ले बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं। जहीर नियमित रूप से ऐसी गेंद को स्क्वायर लेग पर खेलने की कोशिश कर रहे हैं। लंबे कद का होने के बावजूद इशांत को इस तरह की गेंदों को उछलकर खेलना पड़ता है तथा वाका में तीसरे टेस्ट में दो बार वह इस तरह से गेंद खेल चुके हैं।

मेलबर्न में पहली पारी में भारत ने अपने आखिरी पांच में से चार विकेट दस ओवर और 21 रन के अंदर गंवाए। दूसरी पारी में मैच भारत के हाथ से निकल चुका था इसलिए स्पिनर नाथन लियोन गेंदबाजी कर रहे थे जिससे भारत के आखिरी चार विकेट 52 रन जोड़ने में सफल रहे। सिडनी में पहली पारी में आखिरी चार विकेट केवल 13 रन जोड़ पाए। दूसरे पारी में भारत की हार तय हो गई थी लेकिन आखिरी तीन विकेट 114 रन जोड़ने में सफल रहे लेकिन इस बीच अधिकतर ओवर लियोन ने ही किए थे जो यह साफ कर देता है कि आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजों का यह नया हथियार भारतीय पुछल्ले बल्लेबाजों के खिलाफ अब तक कितना कारगर साबित हुआ है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर