दुबई। पाकिस्तानी आफ स्पिनर सईद अजमल ने अपनी गेंदबाजी एक्शन पर संदेह की बातों को खारिज किया। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के शुरूआती दिन कैरियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 55 रन देकर सात विकेट चटकाए थे जिसके बाद इस विवाद ने जन्म लिया।

इस चौतींस वर्षीय खिलाड़ी की गेंदबाजी से पाकिस्तान ने दुबई स्टेडियम की धीमी पिच पर इंग्लैंड को 192 रन पर समेट दिया था। इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज बाब विलिस ने अजमल के एक्शन पर संदेह व्यक्त किया था। अजमल की गेंद सामान्य आफ स्पिन से दूसरी तरफ टर्न करती है, इस पर विलिस ने, आफ स्पिनर आर्थोडोक्स है। मुझे उनकी दूसरा गेंद से समस्या है। आईसीसी ने इस गेंद को शामिल कर लिया है। उन्होंने नियमों में बदलाव करते हुए इन गेंदबाजों को अपनी कोहनी 15 डिग्री तक मोड़ने की अनुमति दे दी है जिससे यह बल्लेबाजों के लिए मुश्किल हो जाती है। लेकिन अजमल के मुताबिक वह अपने एक्शन के बारे में चिंतित नहीं हैं। अजमल ने कहा, मैं अपनी गेंदबाजी पर ध्यान लगा रहा हूं। मैं इसके बारे में नहीं जानता। मेरे एक्शन को चेक करना अंपायरों और रैफरी की जिम्मेदारी है। मैंने अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की इसलिए मैं खुश हूं।

वर्ष 2009 में भी अजमल के एक्शन पर सवाल उठाए गए थे। दूसरा गेंद की शुरूआत करने का श्रेय पूर्व पाकिस्तानी स्पिनर सकलेन मुश्ताक को जाता है। अजमल ने कहा, सकलेन मुश्ताक के साथ भी ऐसा ही हुआ था। अब वे मेरे साथ भी ऐसा ही कर रहे हैं। आस्ट्रेलिया ने 2009 में मेरे एक्शन पर सवाल उठाए थे लेकिन मुझे इसमें कोई समस्या नहीं दिखती।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर