ब्यूनस आयर्स, प्रेट्र : तमिलनाडु के प्रवीण चित्रावल ने यहां पुरुष ट्रिपल जंप में कांस्य पदक जीता जो यूथ ओलंपिक की एथलेटिक्स स्पर्धा में भारत का दूसरा पदक है। हालांकि, वह दिहाड़ी खेतीहर मजदूर के बेटे हैं। तंजावुर जिले के 17 वर्षीय प्रवीण 15.68 मीटर की दूरी पार करके दूसरे चरण की स्पर्धा में पांचवें स्थान पर रहे, लेकिन पहले चरण में वह 15.84 मीटर की दूरी के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे और इस तरह कुल मिलाकर वह 31.52 मीटर के साथ कांस्य पदक हासिल करने में सफल रहे। 

नए प्रारूप के अनुसार, यूथ ओलंपिक में ट्रैक एवं फील्ड (चार किमी क्रास कंट्री को छोड़कर) फाइनल नहीं होगा। प्रत्येक स्पर्धा दो बार आयोजित की जाएगी तथा दोनों दौर के परिणाम मिलाकर अंतिम सूची तैयार होगी। क्यूबा के अलेसांद्रो डियाज ने कुल 34.18 मीटर के साथ स्वर्ण, जबकि नाईजीरिया के इमेनुएल ओर्टिसमेयवा ने रजत पदक जीता।

 

इससे पहले सूरज पंवार ने पुरुषों की 5000 मीटर पैदल चाल में रजत पदक जीता था। इस साल हुए खेलो इंडिया स्कूल गेम्स का प्रवीण स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी हैं। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के कोच इंदिरा सुरेश से वह चेन्नई में प्रशिक्षण ले रहे हैं। 

 

इंदिरा ने कहा, 'जब प्रवीण चेन्नई में क्लास सातवीं में था तो मैंने उन्हें देखा और अपने पास प्रशिक्षण के लिए बुला लिया। उसने भी मेरे साथ ही प्रशिक्षण लेने का फैसला लिया। प्रवीण ही नहीं उसका छोटा भाई भी मुझसे प्रशिक्षण लेता है। वह बहुत ही गरीब परिवार से है।' प्रवीण ने इस साल जूनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था और वह अभी कर्नाटक के एक कॉलेज में खेल कोटा से बीए की पढ़ाई कर रहा है।

 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस