नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को टोक्यो ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद शटलर पीवी सिंधू से फोन पर बात की और उन्हें ऐतिहासिक जीत पर बधाई दी। वह अब दो ओलिंपिक पदक जीतने वाली एकमात्र भारतीय महिला बन गई हैं। ट्विटर पर इसकी जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, 'वेल प्लेड पीवी सिंधू! पीएम नरेंद्र मोदी ने पीवी सिंधू से बात की और टोक्यो 2020 में कांस्य जीतने पर उन्हें बधाई दी।'

मौजूदा विश्व चैंपियन पीवी सिंधू रविवार को दो ओलिंपिक पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय और देश की पहली महिला बन गईं। पहलवान सुशील कुमार दो ओलिंपिक पदक जीतने वाले पहले और एकमात्र अन्य भारतीय हैं, जिन्होंने 2008 बीजिंग और 2012 के लंदन ओलिंपिक में क्रमश: रजत पदक और कांस्य पदक जीता था।

बता दें कि सिंधू ने बैडमिंटन विमेंस सिंगल्स में चीन की ही बिंग जियाओ को सीधे गेम में हराकर कांस्य पदक हासिल किया। इसके साथ ही वह टोक्यो ओलिंपिक के बैडमिंटन विमेंस सिंगल्स में तीसरे स्थान पर रही। इससे पहले रियो ओलिंपिक 2016 में उन्होंने सिल्वर मेडल अपने नाम किया था। 

सिंधू और बिंग जियाओ के बीच मैच 52 मिनट तक चला और भारतीय शटलर ने इस मैच में 21-13, 21-15 जीत हासिल की। इससे पहले सिंधू शनिवार को चीनी ताइपे की ताई जु यिंग के खिलाफ सेमीफाइनल मैच हारने के बाद स्वर्ण या रजत पदक जीतने से चूक गई थीं। ताई जू यिंग ने सेमीफाइनल में सिंधू को 21-18, 21-12 से हराया था। शुक्रवार को सिंधू ने क्वार्टर फाइनल में जापान की अकाने यामागुची को हराकर महिला सिंगल्स के सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। इसके साथ टोक्यो ओलिंपिक में भारत के नाम तीन पदक सुनिश्चित हो गए हैं। सबसे पहले वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने भारत को सिल्वर दिलाया। इसके बाद बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने सेमीफाइनल में जगह बनाकर भारत का एक और मेडल पक्का किया। अब पीवी सिंधू ने ब्रॉन्ज मेडल दिला दिया है।

Edited By: Tanisk