नई दिल्ली, पीटीआइ। टोक्यो ओलिंपिक के स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा चार दिसंबर को अहमदाबाद के संस्कारधाम स्कूल का दौरा करेंगे। इसी दौरान भारत के स्टार भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एक बड़े मिशन को आगे बढ़ाएंगे। नीरज चोपड़ा पीएम मोदी के मिशन संतुलित भोजन, फिटनेस और खेलों के प्रति जागरूकता फैलाएंगे।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी ने 16 अगस्त को अपने आवास पर टोक्यो ओलिंपियन के साथ मुलाकात के दौरान भारतीय ओलिंपियन और पैरालिंपियन से अपील की थी कि उनमें से प्रत्येक 2023 में स्वतंत्रता दिवस से पहले 75 स्कूलों का दौरा करें और कुपोषण के खिलाफ जागरूकता फैलाएं और स्कूली बच्चों के साथ खेलें। इसी वजह से नीरज चोपड़ा इस मिशन के तहत अपने पहले स्कूल में जाएंगे।

बुधवार को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्वीट किया कि भाला फेंक के खिलाड़ी चोपड़ा प्रधानमंत्री के मिशन की शुरुआत करेंगे। ठाकुर ने ट्वीट किया, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारे ओलिंपियन और पैरालिंपियन को कहा था कि वे स्कूलों का दौरा करें और छात्रों से संतुलित आहार, फिटनेस, खेल और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात करें। चार दिसंबर को नीरज चोपड़ा अहमदाबाद के संस्कारधाम स्कूल में इस मिशन की शुरुआत करेंगे।"

नीरज चोपड़ा भी इस अभियान को लेकर उत्साहित हैं और उन्होंने कहा है कि मैं इस मिशन का हिस्सा बनकर बेहद गर्वित महसूस कर रहा हूं। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) और शिक्षा मंत्रालय इसे अगले दो साल में 'चैंपियंस से मुलाकात' कार्यक्रम के रूप में चलाने पर काम कर रहे हैं। यह कार्यक्रम 'आजादी का अमृत महोत्सव' का हिस्सा होगा जो देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने का जश्न है। भारत के सात एथलीटों ने टोक्यो ओलिंपिक खेलों में पदक जीता था। नीरज चोपड़ा एकमात्र एथलीट थे, जिन्होंने स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया था।

Edited By: Vikash Gaur