ब्यूनस आयर्स, प्रेट्र। भारत के प्रतिभावान बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन यूथ ओलंपिक खेलों के फाइनल में चीन के ली शिफेंग से सीधे गेम में हार गए और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

मौजूदा जूनियर एशियन चैंपियन सेन को 42 मिनट तक चले इस मुकाबले में 15-21, 19-21 से पराजय झेलनी पड़ी। हालांकि इससे पहले उन्होंने जुलाई में एशियन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में शिफेंग को सीधे गेम में हराया था, लेकिन चीनी खिलाड़ी ने इसका बदला चुकता कर लिया। पहले गेम में शिफेंग ने शुरुआती बढ़त लेकर स्कोर 14-5 कर लिया। सेन ने हालांकि अंतर 13-16 का किया, लेकिन लय बरकरार नहीं रख सके। चीनी खिलाड़ी ने लगातार पांच अंक लेकर पहला गेम जीत लिया।

दूसरे गेम में शुरू में शिफेंग 8-7 से आगे था लेकिन बाद में सेन ने अंतर 11-14 का कर दिया। चीनी खिलाड़ी ने तीन अंक का अंतर बनाए रखा और 19-21 से यह गेम भी अपनी झोली में डाला। सेन ने फाइनल केबाद कहा, 'उसने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। मैं लय बरकरार नहीं रख सका। वह अच्छा खिलाड़ी है और उसने महत्वपूर्ण अंक हासिल किए। मुझे खुशी है कि मैं एलीट चैंपियनशिप में बैडमिंटन में लगातार पदक जीतने वाला दूसरा भारतीय बना।' भारत का इस टूर्नामेंट में यह चौथा रजत पदक है जबकि तीन स्वर्ण अभी तक उसने अपने नाम किए हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप