मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

 मार्कहैम (कनाडा), प्रेट्र : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन को पुरुष सिंगल्स सेमीफाइनल में यहां थाइलैंड के शीर्ष वरीय कुनलावुत वितिदसार्न के खिलाफ करीबी मुकाबले में शिकस्त के साथ विश्व जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप में कांस्य पदक मिल पाया। इस साल एशियाई जूनियर खिताब जीतने वाले अल्मोड़ा के लक्ष्य सेन को एक घंटा और 11 मिनट चले मैच में पहला गेम जीतने के बावजूद 22-20, 16-21, 13-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी। 

जूनियर विश्व रैंकिंग में दुनिया के तीसरे नंबर के खिलाड़ी लक्ष्य ने कहा, 'मैं लय हासिल नहीं कर पाया, हालांकि मैं पहला गेम जीतने में सफल रहा। लेकिन दूसरे गेम में वह काफी मजबूत था। मैं अपने मजबूत पक्षों के अनुसार नहीं खेल पाया और मेरे विरोधी के पास मेरे सभी शॉट का जवाब था।' 

लक्ष्य ने मैच में अच्छी शुरुआत की और करीबी मुकाबले में पहला गेम जीता। दूसरे गेम में हालांकि थाइलैंड के खिलाड़ी ने वापसी की और इसे जीतकर स्कोर 1-1 कर दिया। दूसरा गेम गंवाने के बाद भारतीय खिलाड़ी बिलकुल भी चुनौती पेश नहीं कर पाया और कुनलावुत ने तीसरे और निर्णायक गेम में आसान जीत के साथ फाइनल में जगह बनाई।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Lakshya Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप