नई दिल्ली, पीटीआइ। भारत के तैराक रोहन मोरे ओशियन सेवन चैलेंज पूरा करने वाले दुनिया के सबसे युवा स्विमर बन गए हैं। उन्होंने यह कारनामा 32 साल की उम्र में किया। रोहन ने रविवार को सबसे कम उम्र में ओशियन सेवन चैलेंज पूरा कर इतिहास रच दिया। ऐसा करने वाले रोहन एशिया के पहले शख्स बन गए हैं। महाराष्ट्र के पुणे के रहने वाले रोहन ने सातवें चैलेंज के तौर पर न्यूजीलैंड के कुक स्ट्रेट को पार करने के बाद तिरंगा फहराया।

रोहन से पहले दुनिया के आठ लोग ही ओशियन चैलेंज पूरा कर सके हैं। रोहन ने कुक स्ट्रेट में करीब 22 किमी दूरी को 8 घंटे 37 मिनट में तैरकर पूरा किया। उन्होंने सुबह 9.30 बजे उत्तरी आइलैंड से स्विमिंग शुरू की। पहले पांच घंटे तक पानी में सब कुछ ठीक था। तापमान 19 डिग्री के आसपास था। जैसे ही रोहन ने दक्षिणी आइलैंड में प्रवेश किया, पानी का तापमान गिरकर चार डिग्री पर पहुंच गया। ठंडे पानी में भी रोहन ने हिम्मत नहीं हारी। वह इस पानी में 8 घंटे 37 मिनट तक तैरते रहे। रोहन ने बताया कि वह 2015 से इसके लिए कोशिश कर रहे थे।

क्या है सेवन चैलेंज

इस मैराथन स्वीमिंग चैलेंज में तैराक को सात लंबी दूरियां अलग-अलग समंदर में पार करनी होती है। इसे सात महाद्वीप के सबसे ऊंचे पर्वतों पर चढ़ने के बराबर माना जाता है। इस चैलेंज में नॉर्थ चैनल, द कुक स्ट्रेट, द मोलोकई चैनल, द इंग्लिश चैनल, द कैटालिन चैनल, द सुगारू स्ट्रेट और स्ट्रेट ऑफ जिब्राल्टर शामिल हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal