नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी। इस साल जापान की राजधानी टोक्यो में होने वाले ओलंपिक के लिए भारत ने 31 कोटे हासिल कर लिए हैं, जबकि 64 खिलाड़ी (36 पुरुष व 28 महिला) भी क्वालीफाई कर चुके हैं। भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। ओलंपिक-2016 में 117 भारतीय खिलाड़ी रियो गए थे जिन्होंने 15 अलग-अगल खेलों में हिस्सा लिया था। टोक्यो ओलंपिक का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त तक होगा।

टोक्यो ओलंपिक के लिए भारत को तीरंदाजी (04), एथलेटिक्स (05), कुश्ती (04), घुड़सवारी (01), हॉकी (02) और निशानेबाजी (15) में कोटे मिले हैं। हालांकि, जिन खेलों में खिलाड़ियों ने कोटे देश को दिलाए हैं, उनके टोक्यो जाने या नहीं जाने पर फैसला भारतीय महासंघों को करना है। भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफ) साफ कर चुका है कि जिन पहलवानों ने कोटा दिलाया है वो ही ओलंपिक में खेलने जाएंगे। घुड़सवारी में फवाद मिर्जा ने कोटा दिलाया, जबकि हॉकी में पुरुष और महिला दोनों टीमें यह हासिल कर चुकी हैं।

एथलेटिक्स : पुरुषों की 20 किमी पैदल चाल में इरफान थोडी, पुरुषों के 3000 मीटर स्टीपलचेज में अविनाश साबले, पुरुषों के भाला फेंक में नीरज चोपड़ा, महिलाओं की 20 किमी पैदलचाल में भावना जाट, चार गुणा 400 मीटर रिले टीम में मुहम्मद अनस, वीके विस्मया, जिस्ना मैथ्यू और निर्मल नोह की चौकड़ी ने कोटा दिलाया।

निशानेबाजी : पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल में दिव्यांश सिंह पंवार और दीपक कुमार, पुरुषों के 50 मीटर राइफल-थ्री पोजीशन में संजीव राजपूत और ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर, पुरुषों के 10 मीटर एयर पिस्टल में सौरभ चौधरी और अभिषेक वर्मा, पुरुषों के स्कीट में अंगद वीर सिंह बाजवा और मैराज अहमद खान ने कोटा दिलाया है। वहीं, महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल में अंजुम मौदगिल और अपूर्वी चंदेला, महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल में मनु भाकर और यशस्विनी सिंह देसवाल, महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल में राही सरनोबत और चिंकी यादव, महिलाओं की 50 मीटर राइफल-थ्री पोजीशन में तेजस्विनी सावंत कोटा दिला चुकी हैं।

कुश्ती : पुरुषों में रवि कुमार (57 किग्रा), बजरंग पूनिया (65 किग्रा), दीपक पूनिया (86 किग्रा) ने देश को कोटा दिलाया है, जबकि विनेश फोगाट (53 किग्रा) ने महिलाओं में यह कोटा दिलाया।

भारतीय खिलाड़ियों को शिष्टाचार सिखाने भारत पहुंचे जापानी प्रोफेसर

जापानी प्रोफेसरों की पांच सदस्यीय टीम टोक्यो ओलंपिक के लिए भारतीय खिलाड़ियों और अधिकारियों को शिष्टाचार सिखाने के लिए बुधवार देर रात भारत पहुंच गई। यह दल खिलाड़ियों और अधिकारियों को जापान में किस तरह का व्यवहार करना है, इसको लेकर प्रशिक्षित करेगा। इस दल में भारत में जन्मे एक प्रोफेसर भी शामिल हैं और शेष जापानी नागरिक हैं जो त्सुकुबा विश्वविद्यालय से हैं। यह दल भारतीय ओलंपिक संघ (आइओए) और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के निमंत्रण पर देश आया है।

खिलाड़ियों और अन्य अधिकारियों को जापानी शैली में महिलाओं, बड़ों / वरिष्ठों का अभिवादन करना, जापानी भोजन कैसे खाना है आदि चीजों के बारे में सिखाया जाएगा। खेल मंत्री किरन रिजिजू भी यहां इस दल के साथ एक सत्र में शामिल हो सकते हैं। डॉ. हशीशी सानदा की अगुआई में प्रोफेसरों की टीम खिलाडि़यों, अधिकारियों, कोचों, स्वास्थ्य विशेषज्ञ और प्रशासनिक कर्मचारियों के साथ 27 फरवरी को दिल्ली में और 29 फरवरी को पटियाला में सत्र आयोजित करेगी।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस