नई दिल्ली, जेएनएन। अनिल भारद्वाज, गुरुग्राम एशियन गेम्स में पदक जीतने वाले हरियाणा के नौ खिलाडि़यों ने विभिन्न खेल अवॉर्ड लिए दावा किया है। जल्द ही समिति तय करेगी कि देशभर से खिलाडि़यों के आए आवेदनों में से कौन-कौन से खिलाड़ी अवॉर्ड के हकदार बनते हैं।

अवॉर्ड के लिए कुछ खिलाडि़यों के नाम खेल संघों ने भेजे हैं तो कुछ ने स्वयं अपना नाम भेजा है। एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहलवान बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट और कांस्य पदक जीतने वाले मुक्केबाज विकास कृष्णन यादव ने खेल रत्न अवॉर्ड के लिए दावा किया है। 

अन्य छह खिलाडि़यों ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए दावा किया है। ट्रिपल जंप में स्वर्ण जीतने वाले अरपिंदर सिंह, भाला फेंक में स्वर्ण जीतने वाले नीरज चोपड़ा और चक्का फेंक में कांस्य पदक विजेता सीमा पूनिया ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए दावा किया है। 2014 एशियन गेम्स में स्वर्ण जीतने वाली भारतीय कबड्डी टीम की खिलाड़ी प्रियंका का नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा गया है।

जकार्ता में स्वर्ण जीतने वाले मुक्केबाज अमित पंघाल और एशियन गेम्स में भाग लेने वाली सोनिया लाठर ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए दावा किया है। इंडोनेशिया में हुए एशियन गेम्स में हरियाणा के खिलाडि़यों ने 18 पदक (छह स्वर्ण, पांच रजत और सात कांस्य) जीते थे। 

अमित के गुरु अनिल का द्रोणाचार्य अवॉर्ड का दावा 

जकार्ता में स्वर्ण पदक जीतने वाले मुक्केबाज अमित पंघाल के प्रशिक्षक अनिल धनखड़ ने द्रोणाचार्य अवॉर्ड के लिए आवेदन किया है। अनिल ने कहा कि 12 सितंबर तक आवेदन करने की अंतिम तारीख थी। हालांकि गुरु-शिष्य के अवॉर्ड का फैसला समिति को करना है, लेकिन अवॉर्ड के लिए दोनों का दावा मजबूत माना जा रहा है। अगले सप्ताह तक नाम तय होने की उम्मीद है।

Posted By: Lakshya Sharma