संवाद सूत्र, राजगांगपुर : कोरोना को लेकर जारी लॉकडाउन में प्रवासियों के घर लौटने का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में सोमवार को दोपहर एक बजे के करीब एक ट्रक में सवार 30 प्रवासी मजदूरों का परिवार एसएच 10 स्थित रानीबंध के पास ओवरब्रिज पर उतरा। ये प्रवासी लोहराचट्टी से आज सुबह 4 बजे ट्रक के जरिये अपने गृह राज्य पश्चिम बंगाल के लिए निकले थे। लेकिन ट्रक राजगांगपुर तक ही आने से चालक ने सभी को रानीबंध बाईपास के पास उतार दिया। तभी गश्त पर निकले राजगांगपुर थाना प्रभारी गोकुलानंद साहू की नजर इन प्रवासियों पर पड़ने पर उन्होंने इन 30 प्रवासी मजदूरों के परिवारों के लिए भोजन-पानी व बच्चों के लिए बिस्किट का प्रबंध किया। साथ ही उनका दुख-दर्द सुनने के बाद सभी को एक बस में बैठाकर बीरमित्रपुर सीमा के लिए विदा किया। जाते-जाते सभी मजदूरों ने गोकुलानंद साहू का आभार जताया और सभी के चेहरे खिले हुए थे।

बीजद ने जामपाली बाइपास के पास की प्रवासियों की सेवा

एसएच-10 से बंगाल, बिहार, झारखंड के हजारों प्रवासी मजदूरों का आना-जाना लगा हुआ है। भूखे-प्यासे सफर कर रहे इन मजदूरों को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से सोमवार को राजगांगपुर बीजू जनता दल के टाउन अध्यक्ष राजेंद्र बेहरा एवं बीजू छात्र जनता दल के अध्यक्ष बिश्व प्रकाश उर्फ सिपुन की अगुवाई में दलीय कार्यकर्ताओं ने हाहवे पर जामपाली बाईपास के पास जाकर वाहनों को रोककर उनमें सवार प्रवासियों के बीच भोजन के पैकेट के साथ पेयजल देकर उनके गंतव्य के लिए विदा किया। दोपहर 12 बजे से ढाई बजे तक चले इस सेवा कार्य में राजेंद्र लेंका, अशोक साहू, सुधीर साह, राजेंद्र मोहंती उर्फ राजू भाई, सुनील, रुपेश, अखिलेश दास मुख्य रूप से सक्रिय रहे। बीजद के अध्यक्ष राजेंद्र बेहरा ने कहा प्रवासी मजदूरों को खाने का पैकेट देने का कार्य अभी चलता रहेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस