संसू, राजगांगपुर : स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगरपालिका द्वारा लाखों रुपये खर्च कर बनाए गए सार्वजनिक शौचालय का दो महीने से ताला नहीं खोला गया है। ऐसे में राहगीरों सहित बगल में स्थित साप्ताहिक बाजार में सब्जी बेचने और खरीदने आए लोगों को भी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। नगरवासियों की माने तो सामुदायिक शौचालय मात्र दिखावा बन कर रह गया है। स्थानीय लोगों को यह मालूम नही है कि शौचालय आखिर दो महीनों से बंद क्यों है। स्वच्छता अभियान पर जोर देते हुए नगर को खुले में शौच मुक्त करने के लिए सार्वजनिक सामुदायिक शौचालयों का निर्माण नगरपालिका की तरफ से कराया गया है लेकिन इसका उपयोग दो महीने से नहीं हो रहा है। जन सुविधा के लिए बना सामुदायिक शौचालय बंद रहता है। वार्ड नंबर एक में ठीक नगरपालिका के सामने बने इस सामुदायिक शौचालय के आसपास रहने वाले लगभग तीन दर्जन परिवारों के पास अपना शौचालय नहीं है। सामुदायिक शौचालय का निर्माण होने से लोगों में आस जगी थी कि अब खुले में शौच से मुक्ति मिल जाएगी, पर ऐसा नहीं हुआ। लोगों ने बताया कि दो महीने से यह शौचालय बंद पड़ा हुआ है। लोगों का कहना है कि सरकार द्वारा लाखों रुपये खर्च करने के बाद भी योजना के लाभ से गरीब वंचित हैं। अगर सामुदायिक शौचालय नियमित खुले तो लोग उसी में शौच के लिए जाएंगे। स्थानीय निवासियों ने सामुदायिक शौचालय में दो महीने से लगा ताला जल्द खुलवाने की मांग नगरपालिका के अधिकारियों से की है। कहा है कि इस ओर ध्यान दिया जाए।

Edited By: Jagran