जासं, राउरकेला : जंगल जमीन के लिए आवेदन करने वालों से 13 हजार रुपये रिश्वत लेने के आरोप में हेमगिर तहसील के क्लर्क अनिल बरिहा को जिलापाल के द्वारा निलंबित कर दिया गया है तथा इसकी जांच शुरू की है।

अनुसूचित जाति व जनजाति तथा परंपरागत वनवासियों को सरकार की ओर से जंगल जमीन अधिकार की स्वीकृति देने के साथ ही प्रमाणपत्र प्रदान किया जा रहा है। जंगल जमीन अधिकार कानून 2006 के अनुसार आवेदन लिया जा रहा है। हेमगिर तहसील के क्लर्क को इसके लिए आवेदन दिया गया था। लेबदाजोर गांव के आवेदक से जमीन संबंधित कार्य के लिए क्लर्क के द्वारा रिश्वत मांगने व 2 दिसंबर को रकम लेने की शिकायत के बाद जिलापाल की ओर से कार्रवाई की गई एवं उसे निलंबित कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस