संवादसूत्र, बड़गांव : बीडीओ क्षमानिधि भोई व जेई एस नायक को जान से मारने की धमकी देने तथा ब्लाक कार्यालय में जाकर हंगामा करने के आरोप में तलसरा युवा बीजद के पूर्व अध्यक्ष उत्कल महापात्र को गिरफ्तार कर शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। सांसद कोष से कंक्रीट सड़क का निर्माण कार्य नहीं मिलने के कारण महापात्र ने शराब के नशे में हंगामा मचाया। पुलिस घटना की छानबीन कर रही है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, उत्कल महापात्र शराब के नशे में ब्लाक कार्यालय आया और वहां बीडीओ क्षमानिधि भोई, सहायक अभियंता सहदेव मुंडारी व जेई एस नायक को गालियां देने के साथ ही गोली मारने की धमकी दी। इसकी शिकायत मिलने पर डीएसपी सत्यव्रत दास भी मौके पर पहुंचे। उनकी मौजूदगी में भी महापात्र ने गाली गलौज करने के साथ गोली मारने की धमकी दी। हंगामा करने पर पुलिस ने उसे नियंत्रित करते हुए गिरफ्तार कर लिया। बीडीओ व जेई की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर पुलिस घटना की जांच कर रही है। छानबीन में पता चला कि सांसद कोष से बमडेगा में कंक्रीट सड़क का काम चल रहा है। वह इसका ठेका लेना चाहता था पर यह काम तुलाराम होता को मिल गया जिसे लेकर वह क्षुब्ध था एवं योजना बनाकर हंगामा करने के लिए ब्लाक कार्यालय आया था। वाहनों से उगाही करते रंगेहाथ पकड़ाया कांस्टेबल

टेनसा- कोइड़ा मार्ग में वाहनों को रोक कर चालकों से धन की उगाही करते एक कांस्टेबल को बणई के एएसपी ने रंगेहाथ पकड़ लिया। हालाकि पकड़े जाने के बावजूद कांस्टेबल पर कार्रवाई करने के बजाय चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। स्थानीय लोगों ने इस ओर एसपी का ध्यान आकृष्ट किया गया है।

कोइड़ा थाना के मुख्य कांस्टेबल टी मिज के साथ पुलिस मार्ग से गुजर रहे वाहनों को रोक कर चालकों से धन की उगाही करते हैं। इसकी शिकायत पुलिस अधिकारियों से की गई थी। गुरुवार को भी पुलिस कर्मी वाहनों से वसूली कर रहे थे तभी बणई एएसपी के हाथों पकड़े गए। पुलिस अधिकारी के द्वारा गैर कानूनी काम करते पकड़े जाने के बावजूद उनके खिलाफ किसी तरह की कार्रवाइ नहीं किए जाने को लेकर स्थानीय लोगों ने इस ओर एसपी का ध्यान आकृष्ट किया है तथा वसूली पर रोक लगाने की मांग की गई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस