संवादसूत्र, राजगांगपुर : डालमिया आइटीआइ शिल्प प्रशिक्षण केंद्र, झगड़पुर का 24 वां वार्षिकोत्सव शुक्रवार को मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि उत्कलमणि गोपबंधु इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिग, राउरकेला के प्राचार्य प्रताप चंद्र रथ ने बच्चों जीवन में आगे बढ़ने के लिए कई सुझाव देते हुए लगन व मेहनत करने का परामर्श दिया। कहा कि लगन व मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है।

सम्मानित अतिथि डालमिया सीमेंट भारत लिमिटेड के पूर्वांचल उत्पादन प्रमुख तथा प्रशिक्षण केंद्र के अध्यक्ष सुनील कुमार गुप्ता ने कहा की दृढ़ इच्छाशक्ति से कोई भी काम मुश्किल नहीं हो। इसलिए युवाओं को पूरी निष्ठा एवं लगन के साथ आगे बढ़ते हुए देश के विकास में योगदान देना चाहिए। संस्थान के सचिव संग्राम केसरी स्वांई ने अतिथि परिचय एवं केंद्र के प्राचार्य देवदत्त प्रधान ने वार्षिक विवरण प्रस्तुत कर संस्थान की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। डीआइटीआइ प्रबंधन कमेटी के सदस्य ओम प्रकाश अग्रवाल ने भी अपने विचार रखे। इस मौके पर संस्थान की पुस्तक 'द शिल्पी' का विमोचन अतिथियों द्वारा किया गया। साथ ही पूर्व छात्र तथा ग्रिड कॉर्पोरेशन अनुगुल में कार्यरत नरेंद्र कुमार महांती को डीआइटीआइ प्रतिभा सम्मान-2019 के साथ विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को सम्मानित किया। नरेंद्र कुमार महांती ने अपनी सफलता का श्रेय डीआइटीआइ सहित शिक्षकों को दिया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया। अंत में शिवशंकर साहू ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस