संवाद सूत्र, बामड़ा : बामड़ा वाइल्डलाइफ डिवीजन अंतर्गत महुलमुंडा गांव में हाथी के हमले में सुनील लकड़ा की मौत के बाद ग्रामीणों द्वारा फॉरेस्टर से हाथापाई करने का मामला थाना पहुंच गया है। फॉरेस्टर तपस्विनी राउत बुधवार को गोविंदुपर थाना पहुंचकर महुलमुंडा के ग्रामीणों पर मारपीट करने एवं इसका वीडियो बनाकर वायरल करने का आरोप लगाते हुए नामजद रिपोर्ट दर्ज करा सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। फॉरेस्टर ने एसडीपीओ राजकिशोर मिश्र व थानेदार प्रताप राणा को बताया कि महुलमुंडा गांव में जंगली हाथी के हमले से गांव के किसान सुनील लकड़ा की सोमवार की रात को मौत हो गई थी। खबर मिलने पर मैं गांव पहुंची। वहां गांव के भवानी एक्का, पार्वती कर्ता और अन्य महिलाओं ने उनके साथ गाली-गलौज करने के साथ चोटी पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। लोग जान से मारने की धमकी भी दे रहे थे। उस समय गडपोष, डूमरमुंडा गांव के लोग भी उपस्थित थे। हमने लोगों से बचाने की गुहार लगायी लेकिन किसी ने नहीं सुनी और उनकी पिटायी का वीडियो बनाने में लगे रहे। गड़पोष पुलिस चौकी प्रभारी ने बचाने का प्रयास किया तो लोगों ने उनसे भी हाथापायी की। तपस्विनी ने बताया कि वीडियो बनाने वालों उसे वायरल भी कर दिया है। एसडीपीओ ने फॉरेस्टर को आश्वस्त किया है कि पुलिस घटना की जांच कर आरोपितों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस