संवादसूत्र, संबलपुर : जुजुमुरा थाना अंतर्गत भंडारीमाल गांव के ऊपरपाड़ा में बीते सोमवार की रात घटित हिसा में दो लोगों की मौत और दो लोगों के घायल होने की घटना के सूत्रधार दिलेश्वर भोई को आखिर पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। अबतक इस घटना में कुल छह आरोपितों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है जबकि अन्य एक को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। गांव में इस हिसा को लेकर तनाव थोड़ा कम हुआ है लेकिन ग्रामीणों का गुस्सा दिलेश्वर पर अब भी बरकरार है। दिलेश्वर अपने ही गांव के तलपाड़ा के शक्तिभूषण कुमुरा, उसके भाई विभूतिभूषण कुमुरा और अरविद कुमुरा को शराब का लालच देकर अपने मोहल्ले ऊपरपाड़ा ले गया था। जहां घटित हिसा में शक्तिभूषण और अरविद की मौके पर ही मौत हो गयी थी, जबकि विभूतिभूषण कुमुरा और नंदलाल भोई गंभीर रूप से घायल हो गए थे ।

सूत्रों के अनुसार रविवार की रात दिलेश्वर भोई ने अपने मोहल्ले की एक महिला से अभद्र व्यवहार किया था। इसी को लेकर लोग उससे नाराज थे। अपने मोहल्ले के लोगों को डराने-धमकाने की खातिर दिलेश्वर तलपाड़ा के कुमुरा भाइयों को शराब का लालच देकर अपने साथ ले गया था। कुमुरा भाइयों में शक्तिभूषण चौदह वर्ष पहले गांव में घटित डबल मर्डर के एक मामले में आरोपी था और जमानत पर था। दिलेश्वर जब कुमुरा भाइयों को लेकर ऊपरपाड़ा गया तो वहां के लोगों से बहस हो गयी और हिसा शुरू हो गयी। ऊपरपाड़ा के लोगों ने मिलकर कुमुरा भाइयों पर हमला कर दिया जिससे शक्तिभूषण और उसके भाई अरविद की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी थी, जबकि विभूतिभूषण और नंदलाल घायल हो गए थे। दोनों को इलाज के लिए बुर्ला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। घायल विभूतिभूषण की जान बचाने की खातिर गुरुवार को उसका ऑपरेशन किया गया और एक पैर को काटकर अलग करना पड़ा। वहीं नंदलाल की हालत गंभीर बनी हुई है। जुजुमुरा पुलिस के अनुसार इस हिसा के पीछे दिलेश्वर का हाथ होने का पता चलने के बाद उसे सोमवार को ही हिरासत में लिया गया था और पूछताछ की जा रही थी । इसी के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके भाई मिलन भोई को भी पुलिस पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप