जागरण संवाददाता, राउरकेला : राउरकेला इस्पात संयंत्र के सीएसआर पहल के तहत अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति और आíथक रूप से पिछड़े वर्ग, मॉडल स्टील विलेज और आरएसपी की पुनर्वास कॉलोनियों के 42 छात्रों को पेशागत पाठ्यक्रम के लिए 16.8 लाख रुपये की आíथक सहायता प्रदान की गई। पाश्वांचल विकास संस्थान में लॉकडाउन नियमों का अनुपालन करते हुए महाप्रबंधक प्रभारी, सीएसआर एमवी अप्पाराव, उप महाप्रबंधक, सीएसआर मुनमुन मित्रा, वरिष्ठ प्रबंधक, सीएसआर, एके परिडा प्रमुख ने लाभुक छात्रों को सहायता राशि का चेक सौंपा। सुश्री मित्रा के समन्वय एवं वरिष्ठ फील्ड सहायक, सीएसआर बीएक्का के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम में वर्ष 2016-17, 2017-18 और 2018-19 बैच के छात्रों को चेक प्रदान किया गया। अब तक इस योजना के तहत 170 छात्र लाभान्वित हुए हैं। इस योजना के तहत प्रति वर्ष 30 हजार रुपये की वित्तीय सहायता 2 साल के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए 60 हजार रुपये, 4 साल के बीटेक जैसे पाठ्यक्रमों के लिए 1.20 लाख रुपये और 5 साल के एमबीबीएस कोर्स के लिए 1.50 लाख रुपये प्रदान किया जा रहा है। इस योजना के तहत प्रत्येक वर्ष 20 छात्रों (10 लड़कों और 10 लड़कियों) को स्नातक पाठ्यक्रम और 10 छात्रों (5 लड़कियों और 5 लड़कों) को व्यावसायिक अध्ययन के पीजी पाठ्यक्रम के लिए चयन किया जाता है। चयनित छात्रों को उनके वाíषक प्रदर्शन और पाठ्यक्रम जारी प्रमाणपत्र के आधार पर हर साल किस्तों में छात्रवृत्ति राशि दी जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस