जागरण संवाददाता, राउरकेला : शहर व आसपास में गुरुवार की सुबह व शाम को तेज आंधी के साथ बारिश होने से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया। आधे घंटे से अधिक समय तक मूसलाधार बारिश हुई एवं ओले भी गिरे। कई जगह तेज आंधी से पेड़ गिर जाने से आवागमन प्रभावित रहा। हालंाकि बारिश होने से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है।

सुंदरगढ़ जिले में चार दिनों से लगातार तेज धूप एवं उमस भरी गर्मी होने के कारण लोग बेहाल थे। बुधवार रात को भी उमस भरी गर्मी थी। गुरुवार की सुबह अचानक बादल छाने के बाद करीब सात बजे से तेज हवा चलने के साथ बारिश शुरु हो गयी। आंधी से शहर के स्टेशन कालोनी समेत कई जगहों पर बड़े पेड़ गिर गये। जगह जगह पेड़ों की डाली गिरने से बिजली आपूíत ठप रही। दो तीन घंटे तक बिजली गुल रहने के बाद आपूíत बहाल की गयी थी। उमस भरी गर्मी से भी लोगों को राहत मिली थी पर दोपहर बाद कड़ी धूप के कारण फिर से उमस भरी गर्मी शुरु हो गयी। शाम को करीब पांच बजे फिर से बादल छाने लगे एवं दिन में ही अंधेरा छा गया। देखते ही देखते आधे घंटे के भीतर तेज आंधी चली एवं गरज के साथ बारिश शुरु हो गयी। कुछ क्षेत्रों में ओले भी गिरे। बंडामुंडा में बिजली आपूर्ति ठप

बंडामुंडा में गुरुवार की सुबह आंधी चलने से जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया। तेज आंधी के चलते लोगों के घरों व दुकानों के एसबेस्टस उड़ गए। आम की फसल को भी नुकसान हुआ है। आंधी से सेक्टर ए निवासी कृष्ण कुमार मिश्र के घर के चार कमरों का एसबेस्टस, मनोज राम, तपन हालदार, महेंद्र साहू, राजू यादव, योगेंद्र यादव और सेक्टर ए /121 निवासी बीके माझी के घर की छत उड़ गई है। बंडामुंडा हाईस्कूल और केंद्रीय विद्यालय इलाके के एक दर्जन से अधिक पेड़ टूट जाने के साथ कई रेलवे क्वार्टरों की छतों को नुकसान पहुंचा है। सेक्टर ए निवासी संजय चौधरी की कार पर पेड़ की डाली गिरने से क्षति पहुंची है। सूचना मिलने पर नगर निगम की टीम इलाके में पहुंची और पेड़ों को हटाने का काम शुरू किया। बिजली विभाग और इंजीनियरिग विभाग की ओर से भी मरम्मत का काम शुरू किया गया। बिजली खंभों को ठीक करने के लिए एलएंडटी की मदद लेनी पड़ी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस