जागरण संवाददाता, राउरकेला : कलिग कला परिषद की ओर से आयोजित इंटर स्कूल बहुभाषी नाटक महोत्सव के तीसरे दिन डाकघर, खुले आकाश में चेन्नई एवं बंधन का मंचन किया गया। इस मौके पर राउरकेला इस्पात संयंत्र अधिकारी संघ के अध्यक्ष विमल कुमार बिसी मौजूद थे। उन्होंने मोबाइल व टीवी के युग में भी नाटक को जीवित रखने के लिए किए जा रहे इस प्रयास की प्रशंसा की। राउरकेला मेंटल जंक्शन शाखा के महाप्रबंधक अरिजीत घोष ने नाटक के जरिए नई प्रतिभा की तलाश होने की बात कही। वहीं जिला सूचना एवं लोक संपर्क अधिकारी अश्विनी भोई ने नाटक समाज का दर्पण है।

कार्यक्रम में कलिग कला परिषद के महासचिव पुलिन मानसिंह ने अतिथियों का स्वागत किया। सेक्टर-7 चिन्मय स्कूल के बच्चों के द्वारा श्लोक पाठ किया गया। वहीं कार्यक्रम का संचालन विभू नायक ने किया। सांस्कृतिक परिषद के सचिव उमाकांत विशोई ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर सेंट अर्नेाल्ड्स के बच्चों के द्वारा हिन्दी नाटक डाक घर का मंचन किया गया। इसमें बताया गया कि आजादी सभी के लिए जरूरी है। रंजिता अधिकारी के द्वारा निर्देशित नाटक में प्रतिष्ठा प्रियर्दिशन पात्र, मर्हिष खिरोद कुमार, सौभाग्य मिश्र, समर सिंह, स्नेहा दास, ऐश्वर्या राय, अनिता मिज, स्मृति सोरेंग, अलिसा आर तिर्की आदि ने अभिनय किया। दूसरा नाटक चिन्मय स्कूल सेक्टर-7 के बच्चों के द्वारा ओडिश नायक खुले आकाश में चेन्नई का मंचन किया गया। नाटक के जरिए दिखा गया कि पिता अपने शौक को तिलांजलि देकर किस तरह बच्चों की आवश्यकता को पूरी करते हैं। शर्मिष्ठा कवि शतपथी लिखित इस इस नाटक का निर्देशन अभय कुमार बिस्वाल ने किया। राजकिशोर जतिन, अंकिता श्रावणी, सुमित, हेमंत, स्वयंसिद्ध, विष्णु प्रिया, सुस्मिता, अíपता, अनीषा, श्रूति, सौम्य, हिमांशु, दिव्या, अनीश, अमित, तन्मय, हिमांशु, दिव्या, अंकिता ने अभिनय किया। तीसरी नाटक इस्पात डीएवी स्कूल सेक्टर-16 के बच्चों के द्वारा ओडिया में बंधन का मंचन किया गया। इसमें बंधुता के बंधन को दर्शाया गया है। प्रतिमा दास द्वरा लिखित एवं सस्मिता दास के द्वारा निर्देशित इस नाटक में शुभम परीडा, पुरुषोत्तम दास, अन्वेषा पाणीग्राही, लोपमुद्रा बेहरा, सुजाता महाराणा आदि ने अभिनय किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस