जागरण संवाददाता, राउरकेला : शहर के नाला रोड में मंगलवार को चार नए कोरोना मरीज सामने आने के बाद जिला प्रशासन ने चौकसी बढ़ा दी है। कंटेनमेंट व बफर जोन में स्वास्थ्य कर्मी 14 दिनों तक लोगों का स्वास्थ्य सर्वे करेंगे। सोमवार से ही एएनएम, आंगनबाड़ी कर्मी दोनों जोन में घर-घर जाकर प्रत्येक परिवार के सदस्यों का नाम पंजीकृत कर रहे है। इसमें स्वास्थ्य टीम को स्थानीय लोगों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। स्वास्थ्य कर्मी लोगों को बता रहे हैं कि वे लगातार 14 दिनों तक उनके घरों में आकर परिवार के सभी सदस्यों के स्वास्थ्य की जानकारी लेंगे। यदि किसी परिवार के सदस्य में कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं तो उसे इलाज के लिए राउरकेला सरकारी अस्पताल ले जाया जाएगा। स्वस्थ होने के बाद उसे वापस घर छोड़ दिया जाएगा।

सेक्टर-18 मार्केट हुआ सील, 20 लोग किए गए आइसोलेट

मंगलवार की सुबह राउरकेला के नाला रोड से चार कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सेक्टर-18 मार्केट को महानगर निगम प्रशासन ने सील कर दिया है। नाला रोड से सामने आए पहले कोरोना पॉजिटिव यहां के एक मटन दुकानदार के संपर्क में आया था। इसे देखते हुए यहां स्थित मांस, मछली व अंडा दुकान को प्रशासन ने सील कर दिया है। साथ ही सेक्टर 18 के 20 लोगों को आइसोलेट किया गया है। इनमें मांस दुकानदार, उसके यहां काम करने वाले कर्मचारी तथा परिवार के लोग शामिल है।

चार प्लाटून ओएसएएफ जवान तैनात

नाला रोड व इससे सटे कंटेनमेंट व बफर जोन के लिए चार प्लाटून ओडिशा स्टेट आ‌र्म्ड फोर्स (ओएसएएफ) को तैनात किया गया था। सोमवार की शाम को पूरे इलाके को ओएसएएफ के हवाले कर दिया गया था। इस दौरान खुद एसपी के शिव सुब्रमणि ने उपस्थित रहकर सुरक्षा बलों को इलाके में सभी नियमों को कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया है। ओएसएएफ के जवानों ने क्षेत्र में पैदल मार्च कर लोगों को घरों में रहने के लिए प्रेरित किया। कंटेनमेंट जोन नियम नहीं मानने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Jagran