जागरण संवाददाता, राउरकेला : बिसरा साह परिवार की ओर से श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का शुभारंभ बुधवार से हुआ। इसके पहले दिन उदितनगर जगन्नाथ मंदिर से एक भव्य कलश शोभा यात्रा निकाली गई। इसमें साह परिवार के समस्त सदस्य के अलावा बड़ी संख्या में महिलाओं ने सिर पर कलश लेकर पैदल चलते हुए अग्रसेन भवन पहुंचीं। कलश यात्रा के पीछे रथ पर वृंदावन स्थित शुक्राचार्य पीठ से पधारे रामानुज श्री वैष्णवाचार्य डॉ रमेशचंद्राचार्य जी महाराज श्रीमद्भागवत गीता के साथ रथ पर सवार थे।

अग्रसेन पहुंच कर सभी महिलाओं ने कलश स्थापना के साथ व्यासपीठ की पूजा की। इस अवसर पर मंगलाचरण भी किया गया। एक सप्ताह तक चलने वाले इस श्रीमद्भागवत ज्ञान यज्ञ के तहत पहले दिन अपराह्न कथा वाचक वैष्णवाचार्य डॉ रमेशचंद्राचार्य जी महाराज मधुर व रसमयी अमृतवाणी से श्रीमद्भागवत गीता के महात्मय का भावपूर्ण वर्णन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में श्रोतागण उपस्थित थे। गुरुवार को पांडव चरित्र, कुंती स्तुति, भीष्म स्तुति, परीक्षित जन्म, भागवत दशर्न, अष्टांगयोग दर्शन, सती चरित्र का वर्णन होगा। शुक्रवार को ध्रुव चरित्र, नर¨सह अवतार, गजेंद्र मोक्ष, वामन अवतार, लीला कथा का वर्णन, शनिवार को समुद्र मंथन, श्रीराम चरित्र, वंशावली वर्णन, श्रीकृष्ण जन्म, नंद महोत्सव होगा। रविवार को गोकुल महोत्सव, बाल लीला, गोवर्धन लीला व दर्शन, पुष्प होली तथा छप्पन भोग का आयोजन होगा। सोमवार को महारास लीला, मथुरा गमन, गोपी विवाह, कंस वध, मथुरा लीला, उद्धव ब्रज आगमन एवं रुक्मणी विवाह का वर्णन होगा। मंगलवार को परीक्षित मोक्ष, सुदामा चरित्र, प्रभु प्रदत्त आत्मज्ञान वर्णन, शुकदेव जी विदाई, ब्रजवासी मिलन, अनुक्रमणिका वर्णन के साथ कथा समापन होगा। जबकि बुधवार को सुबह 9 बजे से हवन एवं पूर्णाहुति की जाएगी। सप्ताहव्यापी चलने वाले इस श्रीमद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ को सफल बनाने में साह परिवार के बिहारीलाल साह, शालीग्राम, मोहनलाल, श्याम सुंदर, शंभू दयाल, पवन कुमार, काशीनाथ, गणेश चंद्र, देवी दत्त, कृष्ण कुमार, संतोष कुमार, राजकुमार, प्रभात कुमार, विमल कुमार, नीरज कुमार, सुमित कुमार व प्रवीण कुमार साह सहित अन्य सभी सदस्य अहम भूमिका निभा रहे हैं।

Posted By: Jagran