पुरी, जेएनएन। बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के चलते श्रीक्षेत्र धाम पुरी में भी आम जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। एक तरफ जहां अशांत समुद्र में प्रति सेकेंड में 5 फुट की ज्वार ने पुरी शहर वासियों को दहला रही है तो वहीं दूसरी तरफ भारी बारिश के चलते महाप्रभु की रथयात्रा देखने श्रीक्षेत्र धाम आने वाले भक्तों को नाना प्रकार की असुविधा का सामना करना पड़ा रहा है। आलम यह है कि जहां से महाप्रभु की बाहुड़ा यात्रा निकलनी है वहां पर घुटनों भर पानी का बहाव हो रहा है।

जानकारी के मुताबिक पिछले 24 घंटे में पुरी शहर में 268.9 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड किए जाने की जानकारी मौसम विभाग की तरफ से दी गई है। शुक्रवार दोपहर से पुरी शहर में मूसलाधार बारिश जारी है। श्री गुण्डिचा मंदिर नाकचड़ा द्वार के सामने शरधाबाली में मौजूद तीनों रथ पानी के घेरे में हैं। शनिवार को महाप्रभु का दर्शन सुबह 7 बजे शुरू हुआ मगर भारी बारिश के कारण भक्तों की उपस्थिति बहुत ही कम रही। ड्रेन का पानी रास्तों के पानी के साथ पुरी समुद्र में प्रवाहित हो रहा है। पुरी के लोकनाथ मंदिर परिसर में भी घुटना भर पानी का जमाव देखा गया है। कुल मिलाकर बारिश के चलते पुरी शहर में भी स्थिति बद से बदतर बन गई है। 

Posted By: Babita