पुरी, जेएनएन। महाप्रभु श्री जगन्नाथ जी का दर्शन करने आने वाले भक्तों को स्वास्थ्य से संबंधी कोई असुविधा होने पर अब बाहर नहीं जाना पड़ेगा, क्योंकि राज्य सरकार ने श्रीमंदिर परिसर के अंदर ही एक स्वास्थ्य केंद्र खोलने का निर्णय लिया है। इस स्वास्थ्य केंद्र में स्थाई डॉक्टर के साथ दो अटेंडेंट को नियुक्त किया जाएगा।

आपातकालीन परिस्थिति में भक्त एवं सेवायत को स्वास्थ्य सेवा मुहैया करने के उद्देश्य से सरकार ने यह निर्णय लिया है। इस बात की जानकारी गुरुवार को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री प्रताप जेना ने मीडिया को दी है। जेना ने कहा है कि श्रीमंदिर को स्वच्छ रखने के लिए मंदिर परिसर के पास ही एक शौचालय बनाया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री की इस घोषणा के बाद हर दिन यहां महाप्रभु का दर्शन करने आने वाले हजारों श्रद्धालुओं में खुशी की लहर दौड़ गई है। हालांकि विभिन्न सेवायतों ने सरकार के इस कदम का विरोध किया है। सेवायतों का कहना है कि मंदिर के पास स्वास्थ्य केंद्र होना अच्छी बात है मगर इसे मंदिर परिसर में नहीं बल्कि मंदिर परिसर के बाहर खोला जाना चाहिए।