भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। कुत्ते मालिक के वफादार होते हैं, यह लोकोक्ति शहर केनिकट बालीपाटणा ब्लॉक के बसंतमाल मुदुलीसाही में सच साबित हुई। दरअसल, बुधवार की भोर बसंतमाल मुदुलीसाही में अचानक आग लग गई। ठंडी रात में लोग अपने घरों में दुबक कर सो रहे थे कि अचानक कुत्तों के जोर-जोर से भौंकने की आवाज से पूरे गांव के लोगों की नींद खुल गई। लोगों ने देखा कि मुदुली साही में आग की लपटें उठ रही हैं। यह देख लोग उस ओर दौड़े और आग में घिरे लोगों को बचाया गया जिनमें कई बच्चे भी शामिल थे। दमकल विभाग को भी सूचना दी गई।

 

हालांकि दमकल गाड़ी जब तक आकर आग को काबू करपाती तब तक बस्ती के 8 परिवारों पर आफत आ चुकी थी और 13 घरों में लाखों की गृहस्थी जलकर खाक हो गई थी। लेकिन इन परिवारों के सभी सदस्यों की जान कुत्तों के भौंकने के कारण बच गई। आवारा कुत्तों के कारण कई लोगों की जान बचने का यह वाकया इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है।

 

इधर, घटना की जानकारी मिलते ही राज्य के वित्तमंत्री तथा क्षेत्रीय नेता शशिभूषण बेहेरा भी बस्ती पहुंचे तथा लोगों को दुख-दर्द सुना। वित्त मंत्री बेहेरा ने पीडि़त परिवार को आश्वस्त किया है कि उन्हें सरकारी सहायता मिलेगी। हालांकि आग कैसे लगी, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है।

 

यह भी पढ़ें: मेडिकल कॉलेज की छात्रा से कॉलेज कैंपस में दुष्कर्म

Posted By: Babita Kashyap