पुरी : पुरी में रथ निर्माण का कार्य तेजी से आगे चल रहा है। रथखला में तीनों रथों के निर्माण के अहम हिस्से के तौर पर छह पहिये लगा दिए गए हैं। स्थानीय भाषा में इसे भउंरी में चक डेरा होना कहा जाता है। श्रीमंदिर में मइलम अवकाश, मंगल आरती, रोष होम व सूर्य पूजा आदि के बाद आज्ञामाल रथखला पहुंचाया गया। बाद में हर रथके दो-दो पहिए खड़े कर दिए गए। रथखला में रथ निर्माण कार्य में लगे महारणा व अन्य कारीगरों ने अथक परिश्रम से अपना कार्य जारी रखा हुआ है। तेज धूप के बावजूद वे निरंतर अपने कार्य में लगे हुए हैं।