संवादसूत्र, ब्रजराजनगर : ब्रह्माकुमारी आश्रम, बेलपहाड़ की ओर से पांच कदम में आयोजित पांच दिवसीय शिविर में राजयोग प्रशिक्षिका डॉ. प्रभा मिश्रा का प्रवचन सुनने भीड़ उमड़ी। शिविर के चौथे दिन डॉ. प्रज्ञा मिश्र ने मानव के अंदर की नकारात्मक सोच व बुरे विचारों से मुक्ति पाने का एक नया तरीका अपनाया। इनके निर्देश पर शिविर में उपस्थित प्रत्येक श्रोता को कागज का एक टुकड़ा दिया गया एवं सभी से कहा गया कि वे अपनी बुरी आदतों एवं कमजोरियों को इस कागज पर अपने हाथ से लिखें। तदुपरांत सभी से इस कागज को लेकर मंच पर बने एक विशेष हवन में दहन कर दिया गया। डॉ. मिश्रा ने बताया कि इससे लोगों को नकारात्मक सोच से काफी हद तक न सिर्फ मुक्ति मिलेगी वरन जीवन को तनावमुक्त बनाने में भी यह काफी हद तक सहायक होगी।

Posted By: Jagran