संवाद सूत्र, ब्रजराजनगर : झारसुगुड़ा जिले में पाए गए दो कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने के बाद चैन की सांस लेने वालों लोगों की एक बार फिर से नींद उड़ गई है। पिछले 24 घंटे में ही जिले में तीन कोरोना संक्रमित मरीज सामने आने के बाद लोगों की चिंता बढ़ गई है।

जिलाधीश सरोज कुमार सामल ने शुक्रवार शाम को ट्वीट के जरिये नए मरीजों के संबंध में जानकारी देते हुए बताया है कि झारसुगुड़ा के मंगलबाजार इलाके का एक 5 वर्षीय शिशु कोरोना संक्रमित पाया गया है। उन्होंने लोगों को आतंकित न होने की अपील की है। बताया है कि शिशु का परिवार अपने रिश्तेदार के यहां उत्तरप्रदेश के आगरा गया था एवं पिछले 16 मई को लौटा था। इस परिवार में पति पत्नी के अलावा दो बच्चे है जबकि उनके मंगलबाजार स्थित आवास में अनेक सदस्य हैं। आगरा से लौटने के बाद सभी को क्वारंटाइन में रखा गया था। 19 मई को सभी का नमूना संग्रहित कर जांच के लिए भेजा गया था। शुक्रवार शाम को उक्त परिवार के पांच वर्षीय बच्चे की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। शनिवार सुबह उक्त बच्चे की एक वर्षीय बहन की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले का तीसरा मामला ब्रजराजनगर के हिलटॉप कॉलोनी के डीएवी स्कूल मे बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर से है। यहां रह रहा 40 वर्षीय महाराष्ट्र से लौटा युवक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। उक्त युवक ब्रजराजनगर के इएसआइ चौक के नुआपाड़ा का निवासी है एवं काम के लिए मुंबई गया था। 21 मई को वह श्रमिक ट्रेन से बलांगीर लौट कर बस से संबलपुर तथा वहां से मैजिक से ब्रजराजनगर के खलियाकानी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा था। जहां उसकी आवश्यक जांच की गई थी। जांच के बाद उसे हिलटॉप कॉलोनी के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। उक्त युवक के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद क्वारंटाइन सेंटर को तथा मंगलबाजार में पाये गए कोरोना संक्रमित बच्चों के घर के आसपास के इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है विगत 29 अप्रैल को जिले का पहला मामला ब्रजराजनगर के बूढ़ीजाम में सामने आया था। कोलकाता से आई एक 18 वर्षीय युवती की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इसके बाद तीन मई को लखनपुर ब्लॉक के दहलडेरा गांव में एक 40 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई थी। दोनों को राउरकेला के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 11 मई को दोनों के स्वस्थ होकर लौटने के बाद जिलावासियों ने राहत की सांस ली थी। लेकिन शुक्रवार शाम को अचानक एक 5 वर्षीय बच्चे के रूप में तीसरा तथा शनिवार को अन्य दो कोरोना संक्रमित मरीज सामने आने से लोगों की चिंता फिर बढ़ गई है। हालांकि बच्चों की चिकित्सा कहां कराई जाएगी इसका निर्णय न होने की जानकारी उपजिलाधीश शिव टोप्पो ने दी थी। ज्ञात हो कि जिले में अब तक 2456 स्वाब नमूने संग्रहित किए गए हैं जिनमें से 2111 की रिपोर्ट निगेटिव व तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस