झारसुगुड़ा, जेएनएन। राज्य सरकार ने छात्र-छात्राओं के लिए एक प्रकार के यूनिफार्म व शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए अलग यूनिफार्म के साथ ही सभी सरकारी स्कूलों का रंग भी एक ही तरह का करने का निर्णय लिया है। सभी सरकारी स्कूलों में लगे साइन बोर्ड व स्कूलों के नामों को एक प्रकार रखने के लिए प्रत्येक जिले के शिक्षाधिकारी को निर्देश दिया गया है।

प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक विद्यालय, नोडल उच्च विद्यालय व उच्च विद्या पीठ का नाम बदलकर सरकारी प्राथमिक विद्यालय, सरकारी उच्च प्राथमिक विद्यालय के रूप में नामकरण किया जाएगा। स्कूलों के नाम फलक में सरकारी लिखने, विद्यालय व गण शिक्षा की ओर से निर्देश दिया गया है। इसी कड़ी में जिले में स्थित करीब 674 स्कूलों के साइन बोर्ड भी बदले जाएंगे।

इनमें से कुछ स्कूल के नाम फलक में पूर्व से ही सरकारी लिखा है। निर्देशानुसार सभी नाम फलक एक ही रंग के लगाने की बात कही गई है। जिले में प्रथम से दशम श्रेणी तक की कुल 674 सरकारी स्कूल है। इनमें से 659 प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय है, जबकि 67 उच्च विद्यालय है। इसी प्रकार सरकारी अनुदान प्राप्त 59 स्कूल भी है। इसमें से सातवीं कक्षा तक शिक्षा दान की 21 स्कूल है। इनके अलावा 102 निजी स्कूल भी है। 

सरकारी निर्देशानुसार जिले की 674 स्कूलों के नाम फलक में सरकारी उल्लेख किया जाएगा। इसी कड़ी में अब झारसुगुड़ा शहर की प्राचीन स्कूल में एक मनमोहन नोडल उच्च प्राथमिक विद्यालय का नाम परिवर्तन कर मनमोहन सरकारी उच्च विद्यालय के रूप में जानी जाएगी। 

जिले की कुल 674 सरकारी स्कूल

’ 659 प्राथमिक व उच्च विद्यालय।

’ 67 उच्च विद्यालय ।

’ सरकारी अनुदान प्राप्त 59 स्कूल।

’ सात कक्षा तक की शिक्षा दान की स्कूल 21 स्कूल।

’ 102 निजी स्कूल।

सात स्कूली कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश

जिले के विभिन्न स्कूलों में कार्यरत सात लापता कर्मचारियों के खिलाफ संबद्ध स्कूलों के प्रधान शिक्षकों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। बताया गया है कि यह सातों कर्मचारी बगैर किसी अनुमति के पिछले कई दिनों से काम पर नहीं आ रहे। संबलपुर जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद पंडा के अनुसार, इन अनुपस्थित कर्मचारियों के बारे में शिकायत मिलने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया गया। इन कर्मचारियों में संबलपुर के चंद्रशेखर बेहेरा जिला स्कूल के श्याम बहादुर, बामड़ा बालिका हाईस्कूल के रसानंद भइंसा, तालाब हाईस्कूल के सोमनाथ, मूरा नोडल हाईस्कूल के पंचानन राउत, केनाढिपा पंचायत नोडल हाईस्कूल के अभय दास, कुलुंडी स्थित वीएसएस हाईस्कूल का लिसारानी नाग और गोपालपाली स्थित एसबी हाईस्कूल के विश्वमित्र महापात्र शामिल है।

 

Posted By: Babita