संबलपुर, जेएनएन। सालेभटा पंचायत के पूर्व सरपंच परशुराम प्रधान की निर्मम हत्या की घटना के बाद भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस ने भी इस हत्याकांड के समस्त आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आंदोलन शुरू कर दिया है। इस मामले को लेकर सोमवार को नाकटीदेउल ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की ओर से नाकटीदेउल थाना और ब्लाक कार्यालय का घेराव किया गया। राजीव गांधी पंचायतीराज संगठन के प्रांतीय आवाहक आसफ अली खान, किसान मोर्चा के गोविंद मिश्र और नाकटीदेउल जोन-1 के अध्यक्ष उग्रसेन देहुरी और जोन-2 के अध्यक्ष मोतीलाल बिस्वाल के नेतृत्व में करीब डेढ़ हजार कांग्रेसी और ग्रामीण इस आंदोलन में शामिल हुए।

ब्लॉक कांग्रेस कार्यालय से निकली रैली कस्बे का परिक्रमा करते हुए पहले नाकटीदेउल थाना पहुंची और थाने का घेराव करने समेत परशुराम हत्याकांड के समस्त आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की। गौरतलब है कि इस हत्याकांड में संलिप्त दो आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जबकि मुख्य आरोपी दशरथ धल और उसके साथी अबतक कहीं फरार है। सालेभटा सहकारी समिति में हुए घोटाले का पर्दाफाश करने की वजह से परशुराम की 27 अगस्त की रात हत्या कर दी गई थी।

रेढ़ाखोल एसडीपीओ और नाकटीदेउल थानाधिकारी ने हत्यारोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर आंदोलन खत्म कराया। इसके बाद कांग्रेस की रैली नाकटीदेउल ब्लॉक कार्यालय पहुंचकर बीडीओ का घेराव करने समेत मुख्यमंत्री के नाम मांगपत्र प्रदान किया, जिसमें क्षतिग्रस्त किसानों का यथाशीघ्र फसल बीमा राशि प्रदान करने, किसानों का कर्ज माफ करने, नाकटीदेउल ब्लॉक में खाली पड़े डॉक्टरों के रिक्त पदों पर डॉक्टरों की नियुक्ति और शिक्षक पदों पर नियुक्ति का उल्लेख किया गया है।