कटक, जागरण संवाददाता। माहंगा के स्वर्गीय कुलामणि बराल के बेटे व नृतांग के समिति सभ्य रमाकांत बराल ने परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए गुहार लगाते हुए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को खत लिखा है। पत्र में रमाकांत बराल ने परिवार को सुरक्षा मुहैया करवाये जाने की मांग की है। बराल ने कहा है कि मेरे पिता कुलामणि बराल और उनके सहयोगी दिव्य सिंह बराल के साथ सूचना अधिकार कार्यकर्ता विकास जेना हत्या में शामिल अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए।

  पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार ना करने हेतु अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर मैं काफी भयभीत हूं। यह बात रमाकांत बराल ने खत में लिखी है। उनके आरोप के मुताबिक, विकास जेना हत्या के बाद अपराधी खुल्लम-खुल्ला घूम रहे थे। लेकिन पुलिस जानबूझकर उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही थी। यहां तक कि गवाह एवं सबूतों को नष्ट करने के लिए हत्या में शामिल आरोपी धमकी भी दे रहे थे। विकास की पत्नी को भी हत्या के मामले में कोर्ट से वापस लेने के लिए दो-दो बार धमकी दी गई थी। जिसको लेकर माहंगा थाने में शिकायत भी दर्ज की गई थी। 

 वरिष्ठ पुलिस अधिकारी जानबूझकर उस मामले में आरोपियों का सहयोग कर रहे थे यह आरोप रमाकांत ने लगाया है । प्रधानमंत्री आवास योजना में घोटाला और दल के आधार पर कार्यकर्ताओं को आवास योजना का फायदा दिया जा रहा था जिसके लिए कुलामणि लगातार विरोध करते आ रहे थे और उसी के चलते उनके खिलाफ राजनीतिक आक्रोश बढ़ता जा रहा था। जिसके चलते उनकी बेरहमी से हत्या की जाने की बात मुख्यमंत्री लिखे खत में रमाकांत ने उल्लेख किया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021