कटक, जेएनएन। कटक विकास प्राधिकरण (सीडीए) अंर्तगत ओडिशा पुलिस सिग्नल हेडक्वार्टर पुलिस कॉलोनी के पास स्थित पंप हाउस में गुरुवार की सुबह मोटर पंप के अचानक चल जाने और पानी के तेज प्रवाह से एक ठेकाकर्मी डेढ़ फीट मोटी पाइप लाइन में करीब साढ़े सात घंटे तक फंसा रह गया। बाद में उसे सकुशल बाहर निकाल लिया गया।

जानकारी के अनुसार कटक के देवली साही निवासी 53 वर्षीय ठेकाकर्मी प्राणकृष्ण मुदुली गुरुवार सुबह आठ बजे पंप हाउस की पाइप में जमा कचरे की सफाई करने उसके अंदर घुसा था। अचानक पंप हाउस की मोटर चलने लगी जिससे पानी की तेज धारा में वह पाइप के 30 फीट अंदर तक बह गया। घटना की जानकारी सबसे पहले लोक सेवक मंडल के वरिष्ठ अधिकारी भीमसेन यादव को हुई। वह तत्काल बक्सी बाजार स्थित कार्यालय से यहां पहुंचे और खुद ही मौके पर खुदाई शुरू कर दी। लेकिन यह काम उनके अकेले बस का नहीं होने से उन्होंने पंप हाउस के पास मौजूद एक जेसीबी मशीन से रास्तों की खुदाई करानी शुरू कर दी। लगे हाथों इसकी जानकारी जिला प्रशासन एवं नगर निगम तथा ओड्राफ विभाग को दे दी। इसके बाद संयुक्त रूप से पाइप में फंसे मुदुली को बचाने का प्रयास शुरू किया गया।

जमीन की खुदाई कर रास्ते के नीचे बिछाई गई पाइप को तोड़कर मुदुली से बातचीत की गई। पाइप के अंदर आक्सीजन मुहैया कराया गया ताकि मुदुली को श्वांस लेने में कोई तकलीफ न हो। अत्याधुनिक कटर से जगह जगह खुदाई करके पाइप को काट दिया गया। घटना की जानकारी होते ही कटक जिलाधीश सुशांत महापात्र, मेयर मीनाक्षी बेहेरा, निगम के कमिश्नर विकास चंद्र महापात्र, कटक तहसीलदार व पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए और राहत कार्य की निगरानी करने लगे।

सुबह आठ बजे से दोपहर 3:40 तक राहत व बचाव कार्य चलता रहा। अंत में मुदुली को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। जानकारी के अनुसार सेक्टर 7-8 से आ रहे दूषित पानी को इस पंप हाउस में एकत्र किया जाता है और उसको शुद्ध करने के बाद नदी में छोड़ा जाता है। पंप हाउस में हादसे की भनक लगते ही मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई थी। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पुलिस तैनात की गई थी।